यूपी में तेजी से सुधर रहा कोरोना संक्रमितों का रिकवरी रेट, सक्रिय मामलों में भी भारी कमी

लखनऊ. कोरोना संक्रमण के मामलों में उत्तर प्रदेश में की स्थिति राष्ट्रीय स्तर से बेहतर है। यहां कोरोना वायरस संक्रमितों का रिकवरी रेट राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है। साथ ही इस महामारी के सक्रिय मामलों में यूपी की स्थिति राष्ट्रीय स्तर से काफी अच्छी है। गुरुवार को प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस की संख्या अब तक के कुल संक्रमितों का 9.94 प्रतिशत थी, जबकि राष्ट्रीय औसत 13.2 प्रतिशत है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण से रिकवरी की दर 88.36 प्रतिशत है, जबकि राष्ट्रीय स्तर पर रिकवरी रेट 85.25 प्रतिशत है।

ज्यादा जांच से सुधरी स्थिति

वहीं यूपी में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के जहां 3,376 नए मामले सामने आए, वहीं 3,690 मरीज स्वस्थ भी हुए। वहीं इस खतरनाक वायरस ने 45 और मरीजों की जान ले ली। डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या कोरोना के नए मरीजों की तुलना में ज्यादा होने के चलते अब प्रदेश में कोरोना के कुल 42,552 सक्रिय केस रह गए हैं। रिकवरी रेट लगातार बढ़ने से ही सक्रिय मामलों में कमी आ रही है। कोरोना वायरस संक्रमण की भारी संख्या में हो रही टेस्टिंग के चलते रिकवरी रेट में सुधार और सक्रिय मामलों में कमी आई है। प्रदेश में बीते 24 घंटे के दौरान कुल 1,67,082 सैंपल की जांच की गई। इन्हें मिलाकर अब तक प्रदेश में कुल 1,13,75,818 सैंपल की जांच की जा चुकी है।

यहां मिले इतने मरीज

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित जिलों में बीते 24 घंटे के दौरान लखनऊ में कोरोना संक्रमण के 403, प्रयागराज व गाजियाबाद में से प्रत्येक में 189, गोरखपुर में 180, गौतम बुद्ध नगर में 154, कानपुर नगर में 151, मेरठ में 129 तथा वाराणसी व मुरादाबाद में से प्रत्येक में 121 नए मरीजों का पता चला। वहीं कोरोना से जिन 45 मरीजों ने दम तोड़ा उनमें सबसे ज्यादा आठ मौतें लखनऊ में हुईं। प्रयागराज, वाराणसी व सिद्धार्थनगर में तीन-तीन, मेरठ, सहारनपुर, लखीमपुर खीरी, सुलतानपुर, फतेहपुर व सोनभद्र में दो-दो तथा कानपुर नगर, बरेली, अयोध्या, बलिया, मुजफ्फरनगर, कुशीनगर, आजमगढ़, बुलंदशहर, हापुड़, बदायूं, ललितपुर, मऊ, औरैया, भदोही व अंबेडकरनगर में भी एक-एक मरीज ने दम तोड़ा।



Advertisement