दलित नाबालिग लड़की से सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामला, पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचा बसपा का प्रतिनिधिमंडल, कही ये बात

बाराबंकी. जिले के सतरिख में नाबालिग दलित लड़की के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या की सनसनीखेज वारदात में पुलिस ने दो आरोपियों को जेल भेज दिया है। वारदात के बाद एक तरफ जहां पीड़ित परिवार बदहवास है तो वहीं दूसरी तरफ राजनीति भी जोरों पर है। राजनीतिक दल के प्रतिनिधि मंडलों का पीड़िता के घर आने का सिलसिला जारी है। समाजवादी पार्टी के बाद उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के निर्देश पर बसपा का प्रतिनिधि मंडल भी पीड़ित परिवाजनों से मिलने गांव पहुंचा और उन्हें सांत्वना दी। बसपा प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की बात कही। इस दौरान बसपा नेता और समाज सेवी पंकज गुप्ता पंकी ने मृतका के पिता को आर्थिक सहयोग भी प्रदान किया गया साथ ही हर संभव मदद करने का भरोसा भी दिलाया गया।

पहुंचा बसपा का प्रतिनिधि मंडल

बसपा सुप्रीमो मायावती के निर्देश पर प्रतिनिधि मंडल में शामिल विधान मंडल दल के नेता गयाराम दिनकर, अखिलेश अंबेडकर और नौशाद अली पीड़िता के परिजनों से मिलने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए गयाराम दिनकर ने सीएम योगी आदित्य नाथ से इस्तीफे की मांग की और कहा कि उनसे सीएम की कुर्सी संभल नहीं रही है। आए दिन दुष्कर्म की वारदातें और जघन्य अपराध हो रहे हैं। उन्होंने पुलिसिया पर भी सवालिया निशान लगाया।

पहुंचे ये बसपा नेता

मृतका के घर जाने वालो में प्रमुख रूप से बसपा नेता और समाज सेवी पंकज गुप्ता 'पंकी', मायावती के पूर्व ओएसडी सुरेश चंद्र गौतम, बसपा के पूर्व नगर अध्यक्ष कुंवार जामी, जिलाध्यक्ष विजय गौतम, बसपा के पूर्व जिला अध्यक्ष के के रावत, पूर्व डीडीसी शिव बहादुर वर्मा, पूर्व विधायक मीता गौतम, आरपी गौतम समेत कई लोग शामिल रहे। इस दौरान बसपा नेता और समाज सेवी पंकज गुप्ता पंकी ने मृतका के पिता को आर्थिक सहयोग भी प्रदान किया गया साथ ही हर संभव मदद करने का भरोसा भी दिलाया गया।



Advertisement