टिकट आरक्षण के नियमों में बदलाव, त्योहार में टिकट कटाने से पहले जान ले ये जरूरी बात

लखनऊ. दशहरा, दिवाली के लिए टिकट बुकिंग शुरू हो गई है। लेकिन इस बार कोरोना वायरस (Covid-19) को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने टिकट आरक्षण के नियम में कुछ बदलाव किए हैं। नए नियम के अनुसार, अब ट्रेनों में टिकट आरक्षण का दूसरा चार्ट ट्रेन के स्टेशन से खुलने से आधे घंटे पहले जारी किया जाएगा। यह नियम 10 अक्टूबर से लागू किया जाएगा। भारतीय रेलवे ने स्टेशनों से ट्रेनों के निर्धारित प्रस्थान समय से आधा घंटा पहले द्वितीय आरक्षण तालिका तैयार करने की पिछली प्रणाली को 10 अक्टूबर से बहाल करने का निर्णय किया है।

कोरोना वायरस महामारी के कारण हुआ बदलाव

रेलवे ने कहा कि कोविड-19 से पहले के दिशा-निर्देशों के तहत पहली आरक्षण तालिका ट्रेनों के निर्धारित प्रस्थान समय से कम से कम चार घंटे पहले तैयार की जाती थी, ताकि उपलब्ध बर्थ द्वितीय आरक्षण तालिका के तैयार होने तक 'पहले आओ-पहले पाओ' के आधार पर पीआरएस काउंटरों और इंटरनेट के माध्यम से बुक किये जा सकें। कोरोना वायरस महामारी के चलते द्वितीय आरक्षण तालिका बनाने का समय ट्रेनों के निर्धारित/परिवर्तित प्रस्थान समय से आधा घंटा पहले से बढ़ाकर दो घंटा पहले करने का निर्देश दिया गया था।

सॉफ्टवेयर में बदलाव

रेल यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए तय किया गया कि द्वितीय आरक्षण तालिका ट्रेनों के निर्धारित प्रस्थान समय से कम से कम आधा घंटा पहले तैयार कर ली जाए। इसके लिए ऑनलाइन और पीआरएस टिकट काउंटरों पर टिकट बुकिंग सुविधा द्वितीय आरक्षण तालिका के हिसाब से तैयार होगी। सीआरआईएस सॉफ्टवेयर में जरूरी बदलाव करेगा ताकि दस अक्टूबर से इस व्यवस्था को बहाल किया जा सके।

ये भी पढ़ें: कम उम्र में खरीदना चाहते हैं घर तो ध्यान रखें ये बातें, नहीं होगी पैसों की तंगी

ये भी पढ़ें: नौकरी छोड़ने के बाद पीएफ का पूरा पैसा निकालना हो सकता है घाटे का सौदा, आपके खाते पर मिलता है बड़ा फायदा

ये भी पढ़ें: राममंदिर तक रोपवे से भी पहुंचा जा सकेगा, देश का पहला मंदिर जो पहाड़ी पर नहीं फिर भी होगी रोपवे की सुविधा



Advertisement