दुर्गापूजा और दशहरा पर रोक, नहीं निकलेगा जुलूस

सुलतानपुर. कोरोना की वजह से दुर्गापूजा महोत्सव इस बार नहीं मनेगा। इसके साथ ही चेहल्लुम, दशहरा पर भी रोक रहेगी। जिलाधिकारी रवीश कुमार गुप्ता ने दुर्गापूजा समितियों और धर्मगुरुओं को बुलाकर शासन की मंशा से अवगत करा दिया है।

61 साल से अनवरत हो रहे ऐतिहासिक दुर्गापूजा महोत्सव पर कोरोना संक्रमण के कारण पूर्णविराम लग गया है। अब लोग अपने-अपने घरों में दुर्गा प्रतिमाओं की स्थापना कर पूजा अर्चना करेंगें, क्योंकि शासन से मिले निर्देश में यह साफ कर दिया गया है कि कोरोना संक्रमण के कारण चेहल्लुम, दुर्गापूजा महोत्सव और दशहरा पर सभी प्रकार की रोक होगी और किसी भी प्रकार के जुलूस पर प्रतिबंध होगा। जिलाधिकारी रवीश कुमार गुप्ता ने दुर्गापूजा समितियों और धर्मगुरुओं को बुलाकर शासन की मंशा से अवगत करा दिया है।

जिलाधिकारी रवीश गुप्ता की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में दुर्गा पूजा व दशहरा पर्व मनाये जाने के सम्बन्ध में जनपद के सम्भ्रान्त व्यक्तियों तथा धर्मगुरूओं व अधिकारियों के साथ बैठक आयोजित की गयी। जिसमें जिलाधिकारी ने बताया कि शासनादेश की गाइड लाइन्स कोविड-19 के दृष्टिगत पूर्व की भॉति चेहल्लुम एवं दुर्गापूजा व दशहरा का त्यौहार अपने घरों में ही मनायें तथा किसी भी प्रकार का कोई जुलूस न निकालें एवं दुर्गा पूजा पर्व पर रामलीला का मंचन वर्च्युअल टेलीकास्ट के द्वारा करें। जिलाधिकारी ने जनपद वासियों से अपील की है कि कोविड-19 की गाइड लाइन्स के अन्तर्गत पूर्व की भांति चेहल्लुम एवं दुर्गापूजा का आयोजन अपने घरों के अन्दर ही करें। उन्होंने कहा कि इस जनपद को बचाना है, कोविड-19 को हराना है।



Advertisement