गड्ढामुक्त सड़क का वादा करने वाली सरकार के राज में मिल रहीं गड्ढायुक्त सड़कें, लोगों का चलना हुआ दुश्वार

बाराबंकी. उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार के बनते ही यूपी की सभी सड़कों को गड्ढामुक्त करने का वादा किया था, मगर बाराबंकी की सड़कें आदज भी गड्ढायुक्त ही हैं। जो सरकार के दावों को मुंह चिढ़ाने का काम भी कर रही हैं और हादसों को दावत भी दे रही हैं। यहां सड़कें ऐसी हो गयी हैं जो चलने के काबिल ही नहीं बची। खराब सड़कों पर जवाबदेही के लिए अब न अधिशाषी अधिकारी सामने आ रहे हैं और न ही कोई प्रशासनिक अधिकारी ही कुछ बोलने को तैयार है।

शहर की सड़कों का बुरा हाल

बाराबंकी के नगर क्षेत्र की सड़कें इस समय अपनी बरबादी की दास्तान सुना रही हैं। इन्हे देखकर सरकार के उस दावे पर हंसी आती है जिसमें उसने प्रदेश की सभी सड़कें गड्ढामुक्त करने का वादा किया था। अगर हम नगर के सबसे व्यस्ततम इलाके घण्टाघर चौराहे से होकर गुजरने वाली नगर के मुख्य सड़क की बात करें तो यहां गड्ढे ही गड्ढे दिखाई देते हैं। इन पर वाहन चलाना तो दूर पैदल चलना भी दूभर हो गया है।

लोगों का चलना हुआ मुश्किल

यहां के लोगों ने बताया कि सड़कों का इस समय बुरा हाल है और सड़कों पर गड्ढे भरे पड़े हुए है। गड्ढों का यह हाल है कि इस पर वाहन चलाना हादसों को दावत देने के बराबर है। इस पर गाड़ी चलती तो है मगर वह जल्दी खराब भी हो जाती है। अब इस सड़क पर गाड़ी से चलना तो दूर की बात है। यहां पैदल चलना भी मुश्किल है। नगर पालिका से हम यही मांग करते हैं कि हमें नगर क्षेत्र में अच्छी सड़क बनवा दें। ऐसे में यह सवाल खड़ा होता हैं कि गढमुक्त सड़कों का वादा करने वाली सरकार में भी क्या गड्ढायुक्त सड़कें ही मिलेंगी। क्योंकि बाराबंकी की सड़कें कुछ ऐसी ही गवाही दे रही हैं। अब इन खराब सड़कों पर जवाब देने के लिए न तो नगर पलिका के अधिशाषी अधिकारी सामने आ रहे हैं और न ही कोई प्रशानिक अधिकारी।



Advertisement