काम पर जा रहे राजगीर की गोली मारकर हत्या, साल भर पहले चचेरे भाई का हुआ था मर्डर

आजमगढ़. अंबेडकर नगर जिले की सीमा पर एक राजगीर की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। हत्या की सूचना पर दो जिलों की पुलिस मौके पर पहुंच गयी। बाद में घटना स्थल अंबेडकर नगर जिले के जैतपुर थाना क्षेत्र में होने के कारण शव को पोस्टमार्टम के लिए अंबेडकर नगर भेजा गया। एक साल पहले मृतक के चचेरे भाई को भी गोली मारी गयी थी। घटना का कारण चकमार्ग का विवाद बताया जा रहा है।

बता दें कि आजमगढ़ जिले के अहरौला थाना क्षेत्र के फुलवरिया बाजार के पास से ही अंबेडकर नगर जिले की सीमा लगती है। सीमावर्ती इलाका जैतपुर थाना क्षेत्र में आता है। जैतपुर थाना क्षेत्र के जोलहापुर गांव निवासी रमेश चैहान (35) पुत्र स्व. राधमारी चैहान पेशे से राजगीर था। वह टाइल्स लगाने का काम करता था। शनिवार को वह अपने रिश्तेदार मनोज चैहान के साथ काम पर जा रहा था उसी दौरान दबंगों ने गोली मारकर उसकी हत्या कर दी।

हत्या की जानकारी होने पर अहरौला थाना क्षेत्र की पुलिस मौके पर पहुंची और घटना क्षेत्र जैतपुर में होने पर वहां की पुलिस को सूचना दी। इसके बाद थानाध्यक्ष जैतपुर फोर्स के साथ मौक पर पहुंचे और शव का पोस्टमार्टम के लिए भेज दियां

बताते हैं कि मृतक का कुछ लोगों से चकमार्ग का विवाद चल रहा था। इसी विवाद में दो साल पूर्व मृतक के चचेरे भाई उमेश को भी गोली मारी गई थी। जिसमें जितेंद्र चैहान व जोगिंदर चैहान के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया था। मृत रमेश तीन भाइयों में दूसरे नंबर पर था और उसे एक पुत्र व एक पुत्री हैं। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। इस हत्या को भी चकमार्ग के विवाद से ही जोड़कर देखा जा रहा है।

BY Ran vijay singh



Advertisement