जाने-अंजाने में ढाई रुपये प्रति लीटर तक महंगा पेट्रोल ताे नहीं खरीद रहे आप भी

सहारनपुर। क्या आप जानते हैं कि प्रत्येक फिलिंग स्टेशन ( पेट्रोल पंप ) पर दाे तरह का पेट्रोल हाेता है। एक सामान्य पेट्रोल हाेता और दूसरा प्रीमियम क्वालिटी का। अलग-अलग कंपनी के पेट्रोल पंप पर इस प्रीमियम क्वालिटी के पेट्रोल का नाम भी अलग-अलग हाेता है जिसकी कीमत ( petrol price ) सामान्य पेट्रोल से ढाई रुपये प्रति लीटर तक अधिक हाेती सकती है।

ऐसे में जरूरी है कि अगली बार जब आप फिलिंग स्टेशन पर अपने वाहन में पेट्रोल भरवाने जाएं ताे सेल्समैन से रेट ( petrol rates ) भी पूछ लें। अगर आपने अभी तक इस बात पर ध्यान नहीं दिया है ताे अगली बार अपनी पेट्रोल खरीदते समय इस बात का पूरा ध्यान रखें कि सेल्समैन आपकी गाड़ी में कौन से वाला तेल भर रहा है। अक्सर हमारी आदत हाेती है कि हम लीटर में नहीं बल्कि रुपयों में पेट्रोल भरवाते हैं। मसलन 100 रुपये, 500 रुपये या फिर 1000 रुपये का तेल भर दीजिए।

ऐसा करने के बाद हम सिर्फ रुपये वाले मीटर काे देखते हैं कि हमारे वाहन में जाे तेल भर गया है वह पूरी कीमत का भरा गया या नहीं। इस बीच हम पेट्रोल के दाम पर ध्यान ही नहीं देते और यही कारण है कि अक्सर हम महंगे वाला तेल ही खरीद रहे हाेते हैं। यह अलग बात है कि नियम के अनुसार ग्राहक के मांगने पर या फिर बताकर ही महंगे वाला पेट्रोल दिया जा सकता है लेकिन ऐसा नहीं हाेता और अधिकांश पेट्रोल पंप पर महंगे वाला पेट्रोल ही बेचा जाता है।

क्या कहता है नियम

नियम कहता है कि ग्राहक के मांगने पर ही सेल्समैन प्रीमियम क्वालिटी का डीजल या पेट्रोल देगा। वर्ना ताे सामान्य कीमत वाला पेट्रोल ही वाहन में भरा जाएगा। नियम यह भी है कि महंगे वाले पेट्रोल या फिर डीजल की मशीन पर हाईलाईटर लगे हाेंगे जाे बात का संकेत देंगे कि वह तेल महंगे वाला है। अक्सर इन नियमों अनदेखी की जाती है। अपने कमीशन के चक्कर में सेल्समैन महंगे वाला ( प्रीमियम क्वालिटी ) का पेट्रोल आपके वाहन में भरते हैं।

क्या है महंगे वाला तेल

दरअसल, प्रत्येक कंपनी एक अलग क्वालिटी का डीजल और पेट्रोल हाेता है। सामान्य भाषा में प्रीमियम क्वालिटी वाला तेल कहा जाता है। तेल कंपनियों का दावा हाेता है कि यह प्रीमियम क्वालिटी वाले तेल यानि ढाई रुपये प्रति लीटर तक महंगे हाेने वाले तेल की खपत सामान्य तेल की अपेक्षा कम हाेती है और इसकी क्वालिटी सामान्य डीजल पेट्रोल से बेहतर हाेती है।

क्या कहते हैं पेट्रोल पंप स्वामी

पेट्रोल एंड एचएसडी विक्रेता संघ ( सहारनपुर ) के सचिव अतुल सिंघल बताते हैं कि नियम के अनुसार महंगे वाले तेल की मशीन पर बोर्ड लगे हाेते हैं जाे बताते हैं कि वह महंगे वाला तेल है। उन्हाेंने बताया कि उनके फिलिंग स्टेशन पर केवल ग्राहक के मांगने पर ही महंगे वाला तेल दिया जााता है। यही नियम भी है कि बगार ग्राहक काे बताए महंगे वाला तेल नहीं दिया जाता।

जानिए इस महंगे वाले पेट्रोल पंप के नाम

इंडियन ऑयल ( ioc ) इस पेट्रोल को एक्सट्रा प्रीमियम के नाम से बेचती है

बीपीसी ( BPC ) के फिलिंग स्टेशन पर इसका नाम स्पीड पेट्रोल हाेता है

एचपीसी ( HPC ) के फिलिंग स्टेशन पर इसका नाम पावर पेट्रोल हाेता है

तीनों कंपनियों में इसके दाम दाे से ढाई रुपये प्रति लीटर तक अधिक हाेते हैं।



Advertisement