बाबरी विध्वंस मामले के फैसला से पूर्व सीएम कल्याण सिंह बेहद खुश, अस्पताल में ही इस तरह मनाया जश्न

ग़ाज़ियाबाद। बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में आखिरकार 28 साल बाद बुधवार के सीबीआई की विशेष अदालत ने फैसला सुनाया। जिसमें सभी 32 आरोपियों को बरी कर दिया। इसमें लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार, कल्याण सिंह जैसे दिग्गज नेताओं के नाम भी शामिल हैं। फैसला सुनाते हुए कोर्ट ने साफ किया कि जो फोटो, वीडियो आदि सबूत के तौर पर पेश किए गए हैं, वो आरोपियों के खिलाफ ठोस साक्ष्य नहीं हैं। जिसे आधार मानते हुए न्यायालय द्वारा इन्हें बरी किया गया है। जैसे ही यह खबर पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने सुनी तो वह बेहद खुश हुए।

दरअसल कल्याण सिंह कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से गाजियाबाद के कौशांबी स्थित यशोदा अस्पताल में भर्ती हैं। वहीं पर वह टीवी देख रहे थे जैसे ही उन्होंने यह खबर सुनी तो उन्होंने वहां के स्टाफ से मिठाई मंगवा कर खुद मुंह मीठा किया और वहां के स्टाफ का भी मुंह मीठा कराया। कल्याण सिंह ने कहा 28 साल बाद यह फैसला आया है और उससे वह बेहद संतुष्ट हैं।

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए अस्पताल के चिकित्सकों ने बताया कि पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह पिछले काफी दिन से कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अस्पताल में भर्ती हैं। जिनका उपचार जारी है। बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में जब फैसला आया तो वह उस वक्त टीवी देख रहे थे। जैसे ही उन्होंने यह खबर सुनी कि न्यायालय ने उनके समेत 32 लोगों को बरी कर दिया है तो वह बहुत खुश हुए और उन्होंने मिठाई मंगाकर खुद भी मुंह मीठा किया और स्टाफ को भी मिठाई खिलाई। चिकित्सकों ने बताया कि कल्याण सिंह की हालत में अब पूरी तरह सुधार है और उनकी सभी रिपोर्ट नॉर्मल आई हैं। जल्द ही उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।



Advertisement