यूपी उपचुनाव : नामांकन से पहले चुनाव आयोग की गाइडलाइन जरुर देखें चूके तो गई उम्मीदवारी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधान सभा उपचुनाव की सात सीटों के लिए आज से कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच नामांकन किया जाएगा। उपचुनाव के लिए अब करीब 25 दिन ही बाकी है। पार्टियां अपने अपने प्रत्याशियों का चयन शीघ्रता से कर रही हैं। चुनाव आयोग ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए नामांकन के लिए गाइडलाइन जारी की है। गाइडलाइन में नामांकन के लिए बेहद कड़े नियमों का पालन करने को कहा गया है। इस गाइडलाइन के अनुसार प्रत्याशी के नामांकन दाखिले में पीठासीन अधिकारी के कक्ष में सिर्फ दो लोगों का प्रवेश मान्य होगा।

उत्तर प्रदेश विधान सभा उपचुनाव के नामांकन की प्रक्रिया शुक्रवार 9 अक्तूबर से शुरू होगी और अंतिम तारीख 16 अक्तूबर रहेगी। यूपी विधानसभा उपचुनाव की आठ में सात रिक्त सीटों में 3 नवम्बर को मत डाले जाएंगे। इनमें अमरोहा जिले की नौगवां सादात, बुलंदशहर, फिरोजाबाद जिले की टूण्डला सुरक्षित, उन्नाव जिले की बांगरमऊ, कानपुर नगर की घाटमपुर सु., देवरिया और जौनपुर जिले की मल्हनी शामिल हैं।

आयोग की गाइडलाइन :- यूपी विधानसभा उपचुनाव सीटों पर नामांकन के लिए केन्द्रीय चुनाव आयोग की जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार दाखिल किए जाएंगे। इस गाइडलाइन के अनुसार प्रत्याशी के नामांकन दाखिले में पीठासीन अधिकारी के कक्ष में सिर्फ दो लोगों का प्रवेश मान्य होगा। जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय के परिसर में एक प्रत्याशी के सिर्फ दो वाहन ले जाने की अनुमति होगी।

आनलाइन दाखिल होगा नामांकन प्रपत्र :- इस गाइडलाइन में नामांकन प्रपत्र मुख्य निर्वाचन अधिकारी या जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध करवाए गए हैं। नामांकन प्रपत्र आनलाइन दाखिले के बाद उसका प्रिंट यानि फार्म-1 का प्रारूप पीठासीन अधिकारी के समक्ष दाखिल किया जाएगा। नामांकन के साथ ही शपथपत्र का प्रारूप भी मुख्य निर्वाचन अधिकारी और जिला निर्वाचन अधिकारी कार्यालय की वेबसाइट पर उपलब्ध है, जिसे आनलाइन दाखिल किया जा सकेगा।



Advertisement