धान काटने गई नाबालिग दलित लड़की का खेत में मिला शव, परिजनों ने जताई दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका

बाराबंकी. ऐसा लगता है कि उत्तर प्रदेश में इस समय लड़कियों के साथ घिनौनी वारदातों की बाढ़ सी आ गयी है। जिनको लेकर विपक्ष भी लगातार सरकार पर हमलावर है। हाथरस की बेटी के साथ हुई घटना को लोग अभी भुला भी नहीं पाए थे कि अब बाराबंकी में भी एक नाबालिग दलित लड़की के साथ बर्बरता की घटना सामने आ गयी। यहां धान काटने गयी एक पन्द्रह वर्षीय नाबालिग दलित लड़की का अर्धनग्न शव मिलने से हड़कम्प मच गया। पुलिस ने शव को पोस्मार्टम के लिए भेज दिया है और रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद जो भी तथ्य सामने आते हैं पुलिस उसके अनुसार आगे की कार्रवाई किये जाने की बात कह रही है। पुलिस ने वारदात की व्यापक जांच के लिए मौके पर डॉग स्क्वायड की भी मदद ली।

लड़की का शव मिलने से हड़कंप

बाराबंकी जनपद के सतरिख थाना इलाके के एक गांव में उस समय हड़कंप मच गया जब धान काटने गयी एक दलित लड़की का शव खेत में मिला। लड़की के परिजनों की अगर मानें तो उसकी उम्र 15 वर्ष है और उसका शव जब मिला तो वह अर्धनग्न अवस्था में था। जिससे जाहिर होता है कि उसके साथ पहले दुष्कर्म हुआ और फिर उसकी हत्या कर दी गयी। परिजनों ने यह भी बताया कि इस वारदात को अंजाम देने में दो या तीन लोग जरूर रहे हैं। वहीं पुलिस ने भी शव मिलने की बात को स्वीकार करते हुई कहा कि पंचनामा भर कर साक्ष्य संकलन किया जा रहा है। जिसके अनुसार आगे की विधिक कार्रवाई की जाएगी।

परिजनों ने जताई दुष्कर्म की आशंका

लड़की के चाचा ने बताया कि उसकी उम्र 15 वर्ष थी और वह धान काटने गयी थी। जहां उसका शव मिला है। लड़की का जब शव मिला तो वह अर्धनग्न अवस्था में था और उसके हाथ बंधे हुए थे। जिससे ऐसा प्रतीत होता है कि उसके साथ पहले दुष्कर्म हुआ और फिर उसकी हत्या की गयी। लड़की के चाचा का यह भी कहना है कि इस वारदात में दो से तीन लोग शामिल हो सकते हैं। लड़की के चाचा ने यह भी बताया कि वह लोग गौतम जाति के हैं और पूरे गांव में उन्ही की बिरादरी के लोग निवास करते हैं।

जांच जारी, होगी कार्रवाई

घटना के सम्बन्ध में प्रभारी पुलिस अधीक्षक आर.एस. गौतम ने बताया कि थाना सतरिख के गांव में एक लड़की का शव धान के खेत में मिला है। जिसका पंचनामा करके साक्ष्य संकलित किये जा रहे हैं। जिस प्रकार से साक्ष्य मिलेंगे उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। घटना के खुलासे के लिए अपर पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया है। जो सारे साक्ष्यों का संकलन करेगी और उसी के अनुसार आगे की विधिक कार्रवाई की जाएगी।



Advertisement