नकली पुलिस का कारनामा, मास्क चेकिंग के नाम पर मोटी रकम वसूलता था ये गैंग, होश उड़ाने वाला खुलासा

सीतापुर. पुलिस ने मुख़बिर की सूचना पर तीन फर्जी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार करने का दावा किया है। पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार तीनों अभियुक्त लखनऊ के निवासी हैं जबकि दो अभियुक्त मौके से भागने में सफल रहे। पुलिस का कहना है कि गिरफ्तार तीनों अभियुक्त फर्जी पुलिसकर्मी बनकर राहगीरों से मास्क चेकिंग के नाम पर अवैध वसूली करते थे। पुलिस ने मौका-ए-वारदात से तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से रुपये और बाइक भी बरामद किया है।

मास्क के नाम पर वसूली

मामला अटरिया थाना इलाके का है। मिली जानकारी के मुताबिक यहां पुलिस को मुखबिर के जरिये सूचना प्राप्त हुई कि कुछ नकली पुलिसकर्मी बनकर लोगों से अवैध वसूली करते थे। अटरिया पुलिस ने इसी सूचना के आधार पर अटरिया पुलिस ने ग्राम भवनपुरा मोड़ के पास पुलिस ने सादे कपड़ों में निगरानी शुरू कर दी। पुलिस के मुताबिक तभी वहां दो बाइक पर सवार पांच लोग आ पहुंचे और मास्क की चेकिंग शुरू करते हुए लोगों से समन शुल्क के नाम पर रुपये भी लिए। पुलिस ने धरपकड़ के दौरान तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया जबकि दो अन्य लोग मौके से भागने में सफल रहे।

पुलिस ने किया खुलासा

पुलिस के मुताबिक पकड़े गए तीनों अभियुक्त अनुज, राकेश और रवीन्द्र यह सभी लखनऊ जनपद के निवासी हैं। पुलिस का कहना है कि पकड़े गए अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया है कि यह रोजाना लखनऊ से आकर बॉर्डर के किनारे पड़ने वाले गांवों के रास्तों पर चेकिंग करके रुपये वसूलने का काम करते थे। सीओ सिधौली का कहना है कि गिरफ्तार अभियुक्तों के पास से 16 रुपये की नगद धनराशि और एक बाइक जिस पर पुलिस का लोगो लगा हुआ है, उसे बरामद किया गया है।



Advertisement