जेल से गैंग चला रहा माफिया कुंटू सिंह दूसरे जेल में होगा शिफ्ट

आजमगढ़. जेल में रहकर पुलिस की नींद उड़ाने वाले माफिया ध्रुव कुमार सिंह कुंटू को पुलिस दूसरे जेल में शिफ्ट करेगी। कारण कि जेल में रहने के बाद भी कुंटू धड़ल्ले से अपने गिरोह डी-11 का संचालन कर रहा है और आए दिन लोगों को धमका रहा है। पुलिस को डर है अगर कुंटू आजमगढ़ जेल में रहा तो कभी भी बड़ी वारदात को अंजाम दिला सकता है।

जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के छपरा सुल्तानपुर गांव निवासी माफिया ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू पुत्र रूद्र प्रताप सिंह डी-11 गैंग का संचालन करता है। सगड़ी के पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू की हत्या सहित पचास से अधिक संगीन अपराध उसके खिलाफ दर्ज है। कुंटू सिंह लंबे समय से जेल में निरूद्ध है। वर्ष 2013 में उसके खिलाफ गैंगेस्टर भी लगाया गया है। जेल में बंद होने के बाद भी कंटू अपनी हुकूमत चला रहा है।

आए दिन कुंटू द्वारा धमकी देने और रंगदारी मांगने का मामला प्रकाश में आता है। अभी दे दिन पूर्व कुंटू ने एक बीएलओ को फोन कर धमकी दी है कि उसके क्षेत्र में मतदाता उसी को बनाया जाएगा जो उसका आदमी है। अगर दूसरे को वोटर बनाया तो हत्या कर दुंगा। बीएलओ ने इसकी शिकायत पुलिस से की तो हड़कंप मचा हुआ है। दो दिन पूर्व ही पुलिस ने इस मामले में कुंटू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

जेल में कुंट के पास मोबाइल कैसे पहुंचता है और वह गैंस के सदस्योें से कैसे संपर्क में है इसका पता पुलिस आज तक नहीं लगा पाई है। कंटू की संपत्ति जब्त करने और उसके संगठन के सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई करने के बाद भी पुलिस न तो उसके मनोबल को तोड़ पाई है और ना ही कुंटू का गिरोह कमजोर कर सकी है। इसलिए अब पुलिस ने कुंटूू को दूसरे जेल में शिफ्ट करने का फैसला किया है।

पुलिस उप महानिरीक्षक आजमगढ़ परिक्षेत्र सुभाष चंद्र दुबे का कहना है कि अपराध पर अंकुश लगाने की दिशा में कदम बढ़ाया गया है। एक फाइल तैयार कर जिला प्रशासन के जरिए शासन भेजी गई है। सलाखों के पीछेे रहने के बाद भी उसकी संदिग्ध गतिविधियां सामने आ रहीं हैं। ठिकाना बदलने के साथ ही उसका नेटवर्क कमजोर होगा। अपराध पर अंकुश लगाने की हमारी मंशा भी कामयाब होगी। गलत कार्यों से अर्जित उसकी करीब 10 करोड़ की संपत्ति कुर्क की गई है। यह कार्रवाई आगे भी की जाएगी।

BY Ran vijay singh



Advertisement