स्वास्थ्य विभाग ने शुरू किया 'ऑपरेशन कोरोना स्टॉप', घर-घर होगी जांच

मेरठ. मेरठ में दिनोंदिन कोरोना से भयावह हो रही स्थिति से निपटने के लिए अब स्वास्थ्य विभाग ने ऑपरेशन कोरोना स्टॉप प्लान तैयार किया है। ऑपरेशन कोरोना स्टाॅप प्लान के तहत मंगलवार से इस अभियान की शुरुआत की जाएगी। जिसके तहत अब स्वास्थ्य विभाग कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए घर-घर जाकर इसकी जांच करेगा और फिर कोरोना संक्रमितों को तलाशकर उनका इलाज किया जाएगा। कोरोना के बढ़ते कहर से आम लोगों में भले ही अब इसके प्रति कोई भय नहीं दिखाई दे रहा है, लेकिन इसको देखते हुए एक बार फिर से स्वास्थ्य विभाग ने संक्रमण की रोकथाम के लिए कमर कस ली है। मंगलवार से शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य विभाग की टीम अभियान चलाएगी।

यह भी पढ़ें- Hathras में जयंत चौधरी पर हुए लाठीचार्ज के बाद जाट समाज में उबाल, उग्र आंदोलन की दी चेतावनी

सीएमओ डाॅ. राजकुमार के अनुसार, शहरी क्षेत्र में कैंट, राजेंद्रनगर, जयभीमनगर में अभियान चलाया जाएगा। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में भूड़बराल, दौराला और मवाना में अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान कोविड-19 के विभिन्न लक्षणों की जानकारी लोगों से ली जाएगी। स्वास्थ्य कर्मचारी घर-घर जाकर कोविड-19 के लक्षणों की जानकारी लोगों से लेंगे। इसमें किसी को बुखार, सर्दी-जुकाम, बदन दर्द, सांस फूलना, गले में खराश आदि लक्षण किसी में पाए जाएंगे तो तत्काल संबंधित व्यक्ति की रैपिड जांच की जाएगी। साथ ही उनका आरटी-पीसीआर का सैंपल भी लिया जाएगा।

अभियान के दौरान चिन्हित मरीजों को होम आइसोलेशन पर रहने की सलाह दी जाएगी। बता दें कि सितंबर में कोरोना के केस बड़ी संख्या में मिले हैं। इसके चलते माना जा रहा है कहीं न कहीं मरीजों की स्क्रीनिंग करने में स्वास्थ्य विभाग काफी पीछे है। इसे देखते हुए सीएमओ डाॅ. राजकुमार ने इस अभियान की शुरुआत छह अक्तूबर से करने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें- रोजाना करेंगे ये 5 उपाये तो दूर-दूर तक पास नहीं फटकेगी कोई बीमारी, मजबूत होगा इम्यून सिस्टम



Advertisement