Hathras Case: पीड़ित परिवार को दी गई कड़ी सुरक्षा, छावनी में तब्दील हुआ गांव

हाथरस. हाथरस सामूहिक बलात्कार मामला लगातार सुर्खियों में है। यही वजह है कि अब अब पुलिस प्रशासन और शासन सर्तकता के साथ कार्रवाई में जुटा है। हाथरस समेत पीड़िता के गांव में भी तनाव का माहौल है। पीड़िता के परिजनों को मिल रही धमकियों को देखते हुए योगी सरकार के निर्देश पर उत्तर प्रदेश पुलिस ने कड़ी सुरक्षा मुहैया करा दी है। इसके साथ ही पीड़िता के घर के बाहर पीएसी के जवान तैनात हैं।

यह भी पढ़ें- प्रियंका गांधी का गिरेबान पकड़ने के मामले में जांच के आदेश, विभाग ने जताया खेद

मामले की गंभीरता को देखते हुए अधिकारियों ने गैंगरेप पीड़िता के भाई के साथ दो पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया है। वहीं, डेढ़ सेक्शन पीएसी की टुकड़ी 24 घंटे घर के बाहर तैनात की गई है। पीएसी के साथ ही दो महिला एसआई और छह महिला सिपाहियों को भी घर के बाहर ही तैनात किया गया है। गांव में एक डिप्टी एसपी स्तर के अधिकारी समेत कई पुलिसवालों की तैनाती की गई है। इनके साथ ही एक मजिस्ट्रेट की भी ड्यूटी लगाई गई है। गांव में तनाव के माहौल को देखते हुए 15 पुलिस के जवान, 3 एसएचओ को भी 24 घंटे ड्यूटी पर तैनात किया गया है।

बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं से जुड़े सभी मामलों में पुलिस विभाग को पूरी तरह संवेदनशीलता के साथ काम करने को कहा है। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति व जनजाति से संबंधित मामलों में विभाग गम्भीरता से जल्द कार्रवाई करे। सरकार के प्रवक्ता की तरफ से बताया गया है कि वर्तमान सरकार की अपराधों के खिलाफ जीरो टालरेंस की नीति है। प्रदेश सरकार की ओर से की गई लगातार कार्रवाई से महिलाओं के प्रति अपराधों में कमी आई है।

यह भी पढ़ें- Hathras Update: भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर, व रालोद के जयंत चौधरी समेत 400 लोगों पर मुकदमा दर्ज



Advertisement