OMG: स्कूल के स्टाफ में भी मिला कोरोना वायरस, पेरेंट्स की बढ़ी टेंशन

मेरठ। अनलॉक 5 में पब्लिक स्कूल खुल गए हैं। जिसके चलते अभिभावकों ने कलेजे पर पत्थर रखकर अपने बच्चों को स्कूल भेजना भी शुरू कर दिया है। वहीं मेरठ के सिटी वोकेशनल पब्लिक स्कूल में एक कोविड—19 पॉजिटिव मिलने से पूरे स्कूल में हड़कंप मच गया। वहीं अभिभावकों की भी हवाइयां उड़ गई। स्कूल में एक लिपिक को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। लिपिक के कोरोना पाजिटिव पाए जाने के बाद अब स्कूल के सभी स्टाफ का कोरोना टेस्ट करवाया गया है। हालांकि अभी रिपोर्ट नहीं आई है। वहीं लिपिक के संपर्क में आए 19 बच्चों का भी टेस्ट करवाया गया है। स्कूल केा फिलहाल 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है।

स्कूलों में अब कोरोना संक्रमण मिलने की शुरूआत हो चुकी है। कोरोना केस मिलने से हड़कंप मचा हुआ है। वहीं, एहतियात के तौर पर अब बच्चों का भी टेस्ट शुरू हो गया है। हालांकि, बच्चों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। लेकिन स्कूलों में कोरोना संक्रमण को लेकर परेशानी बढ़ गई है। कंट्रोल रूम के प्रभारी डॉ. मेघराज ने बताया कि अभी तक स्कूलों में बच्चों की रिपोर्ट निगेटिव मिली है। अभी तक 19 बच्चों का टेस्ट हो चुका है।

पूठखास में कोरोना केस मिलने पर 13 कर्मचारी और 12 छात्रों का टेस्ट हुआ। सेठ बीके माहेश्वरी में 45 स्टाफ और सात छात्र-छात्राओं की जांच हुई। जाहिदपुर में रिपोर्ट निगेटिव आने पर टेस्ट नहीं हुआ। जसंवत शूगर मिल्स स्कूल में 33 की कोरोना जांच हुई।

प्रभारी डॉ. मेघराज ने बताया कि जिला प्रशासन और डीआईओएस के निर्देश पर स्कूलों में कोरोना केस मिलने पर सभी का टेस्ट अनिवार्य रूप से होगा। शिक्षकों में संक्रमण की पुष्टि होने पर बच्चों की भी जांच की जाएगी। बहरहाल सिटी वोकेशनल स्कूल में 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है और 120 लोगों का टेस्ट आज होगा। बहरहाल डॉ. प्रीति सिंह कैंटोनमेंट स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी के दिशा-निर्देश में 120 कर्मचारियों का कोविड-19 टेस्ट कराए जाएंगे। स्कूल में सैनिटाइजेशन भी होगा।



Advertisement