Post Office की इन Schemes में मिलता है सबसे ज्यादा रिटर्न, जानिए अलग-अलग Intrest Rate

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

लखनऊ. कोरोना काल (Corona Virus) में बचत कर पाना आसान नहीं है, लेकिन बेहतर भविष्य के लिए सेविंग (Fiture Saving) बेहद जरूरी है। ऐसे में लोग रिकरिंग (Recurring) और एफडी (FD) आदि के जरिए बचत करते हैं। लेकिन, कहां निवेश (Investment) करना सबसे बेहतर होगा इस बाबत पत्रिका (Patrika Uttar Pradesh) संवाददाता ने एलआईसी (LIC) के अभिकर्ताओं, पोस्ट मास्टर (Post Office) और अलग-अलग बैंक (Bank) प्रतिनिधियों से बात की। मौजूदा दौर में छोटी बचत के लिए पोस्ट ऑफिस की स्कीम्स (Small Saving Schemes) सबसे बेहतर रिटर्न देने वाली हैं। यहां निवेश करने के कई फायदे हैं। World Post Day (9 October) पर बातचीत में हरदोई जिले के कल्यानमल पोस्ट ऑफिस के पोस्टमैन (Postman) जीवन प्रसाद दीक्षित पोस्ट ऑफिस की कई योजनाओं के बारे में बताते हैं। वह कहते हैं कि सरकारी गारंटी होने के कारण जहां इनमें किसी तरह का कोई जोखिम नहीं होता है, वहीं रिटर्न (Interest Rates) भी बेहतर मिलता है। आइए जानते हैं कि पोस्ट ऑफिस (Post Office Schemes) की कौन-कौन सी स्कीम्स हैं, जिनमें निवेश पर बेहतर रिटर्न (Return) मिलता है।

सुकन्या समृद्धि योजना
पोस्ट ऑफिस की सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में खाता खुलवाना बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने का सबसे बेहतर तरीका है। इस योजना में निवेशकों 7.6 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है।

सीनियर सिटिजंस सेविंग्स स्कीम
पोस्ट ऑफिस की सीनियर सिटिजंस सेविंग्स स्कीम (SCSS) पर सालाना 7.4 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा। तिमाही आधार पर इस स्कीम पर ब्याज दिया जाता है। वहीं, सेविंग्स डिपॉजिट पर ब्याज दर 4 फीसदी सालाना की दर से दिया जाता है।

किसान विकास पत्र और टाइम डिपॉजिट
पोस्ट ऑफिस की किसान विकास पत्र (KVP) और टाइम डिपॉजिट (TD) भी निवेश का बेहतर विकल्प है। किसान विकास पत्र में निवेशकों को 6.9 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है। वहीं, 1 से 5 साल के लिए टाइम डिपॉजिट पर 6.7 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है।

रिकरिंग डिपॉजिट और नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट
पोस्ट ऑफिस के नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSS) पर निवेशकों को 6.8 फीसदी की दर से ब्याज मिलेगा। वहीं, अगर आप 5 साल के लिए रिकरिंग डिपॉजिट (RD) करते हैं को ब्याज दर 5.8 फीसदी होगा। इसके अलावा पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) पर तीसरी तिमाही में 7.1 फीसदी की दर से ब्याज निर्धारित किया गया है।

हर तीन महीने में बदलता है इंट्रेस्ट रेट
पोस्ट ऑफिस में हर तीन महीने स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स में जमा राशि पर मिलने वाले ब्याज में बदलाव हो सकता है। बाकायदा नोटिफिकेशन जारी कर इसकी जानकारी दी जाती है। लेकिन, इस वर्ष यह लगातार तीसरी तिमाही है, जब पोस्ट ऑफिस की स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स (Small Saving Schemes) की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें : सरकारी बैंक से लिया था 30 हजार रुपए का लोन, अब मिला तीन करोड़ का नोटिस



Advertisement