यूपी के 25 हजार मदरसा शिक्षकों को मिलेगा 70 दिन का मानदेय, केंद्र ने जारी किए 50 करोड़ 89 लाख रुपये

लखनऊ. यूपी के मदरसा शिक्षकों को सरकार 50 करोड़ 89 लाख का मानदेय देगी। दरअसल, मदरसा आधुनिकीकरण योजना में शामिल प्रदेश के 25 हजार शिक्षकों को करीब 70 दिनों से का वेतन नहीं मिला था। आर्थिक संकट से जूझ रहे मदरसा शिक्षकों की परेशानी को देखते हुए अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नंद गोपाल नंदी ने इस मसले पर केंद्र सरकार को पत्र लिखा, जिसके बाद केंद्र ने अपने हिस्से के 50 करोड़ 89 लाख रुपये जारी कर दिए। बता दें कि मदरसा आधुनिकीकरण योजना में कार्यरत स्नातक शिक्षकों को आठ हजार और परास्नातक को 15 हजार रुपये मानदेय मिलता है। इसमें केंद्र हर बार 3600 रुपये और 4800 रुपये देता है, लेकिन चार साल से केंद्र ने अपना अंशदान जारी नहीं किया था। इस्लामिक मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एजाज अहमद के अनुसार, केंद्र से 2016-17 में धनराशि जारी की थी जिसकी की प्रथम किस्त का 40 फीसदी ही मिला था। इतनी धीमी गति से मानदेय रिलीज करने से मानदेय और अधिक लंबित होता जा रहा है। उन्होंने बताया कि शिक्षकों के वेतन में मिलने वाला केंद्रांश बीते चार साल से नहीं मिल रहा है, जो अब बढ़कर 977 करोड़ रुपये हो गया है।

ये भी पढ़ें: गोरखपुर रेलवे स्टेशन से गायब हुई पूर्व चुनाव आयोग की बिल्ली, पूरे शहर में लगाए पोस्टर, ढूंढने वाले को 11 हजार इनाम

ये भी पढ़ें: यूपी सरकार का नया आदेश, कोई और न बने वीरू इसलिए यूपी की पानी टंकियों में लगेगा ताला



Advertisement