31 अक्टूबर बीता, अब तक प्रदेश के सभी परिषदीय विद्यालयों में नहीं बंट पाये स्वेटर

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों के बच्चों को स्वेटर बांटने में हर साल की तरह लेटलतीफी से इस साल भी जारी है। ठंड ने दस्तक दे दी है। मगर बच्चों को अभी तक स्वेटर वितरित नहीं हुए हैं। इस साल भी बेसिक शिक्षा विभाग अपने ढुलमुल रवैये से बाज नहीं आ रहा। योगी सरकार ने भले ही परिषदीय विद्यालयों के सभी बच्चों को 31 अक्टूबर तक स्वेटर बांटने का निर्देश दिया हो, लेकिन यह समय-सीमा बीतने के दो हफ्तों से ज्यादा का समय बीतने के बाद भी अब तक सूबे के सात जिलों में ही स्वेटर बंटना शुरू हो सका है। इन सात जिलों में भी स्वेटर बंटने की रफ्तार बेहद सुस्त है। जानकारी के मुताबिक प्रदेश के कुल लक्ष्य के मुकाबले अब तक ठाई से तीन फीसदी बच्चों को ही स्वेटर बंट सका है। वहीं प्रदेश के लगभग 18 जिलों में स्वेटर बांटने की बात तो दूर अभी तक इसकी आपूर्ति भी शुरू नहीं हो पायी है। वहीं जिन जिलों में स्वेटर खरीदने और आपूर्ति की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है, स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने वहां के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों से स्पष्टीकरण तलब किया है।

31 अक्टूबर तक बांटने थे स्वेटर

आपको बता दें कि प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने बीती दो सितंबर को परिषदीय स्कूलों के सभी बच्चों को 31 अक्टूबर तक स्वेटर बांटने का आदेश जारी किया था। लेकिन तमाम प्रयास के बावजूद भी बेसिक शिक्षा विभाग बच्चों को समय रहते स्वेटर मुहैया कराने में बीते कई वर्षों से फेल साबित रहा है। इस बार भी विभाग का रवैया कुछ ऐसा ही जाहिर हो रहा है। चालू शैक्षिक सत्र में प्रदेश में परिषदीय स्कूलों में कक्षा एक से आठ तक के लगभग कुल 1,59,50,862 बच्चों को स्वेटर बांटे जाने हैं। स्वेटर की आपूर्ति जिला स्तर पर जेम पोर्टल पर बिडिंग के माध्यम से करने का निर्देश दिया गया था, लेकिन इसके सापेक्ष प्रदेश के सात जिलों में अब तक कुल 3,56,709 बच्चों को ही स्वेटर बंट पाये हैं। वहीं जानकारी के मुताबिक यूपी के 30 जिलों में अभी तक स्वेटर खरीदने की प्रक्रिया भी शुरू नहीं हो सकी है। यहां तक कि इन जिलों में खरीद के लिए क्रयादेश तक जारी नहीं हुए हैं। इसके अलावा बिडिंग के आधार पर जिन 45 जिलों में क्रयादेश जारी हो चुके हैं, उनमें से 27 जिलों में स्वेटर की आपूर्ति नहीं शुरू हुई है। जिन 18 जिलों में आपूर्ति हुई है, उनमें से सिर्फ दो जिलों- हाथरस और प्रयागराज में शत-प्रतिशत आपूर्ति हो सकी है।

इन जिलों में नहीं पूरी हुई प्रक्रिया

इसके अलावा प्रदेश के 19 जिलों में स्वेटर खरीदने के लिए अब तक बिडिंग प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाई ही। इन जिलों में अलीगढ़, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, बुलंदशहर, चंदौली, इटावा, गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, कन्नौज, कुशीनगर, मथुरा, मेरठ, मुजफ्फरनगर, रायबरेली, संभल, सिद्धार्थनगर, सुलतानपुर और उन्नाव में फाइनेंशियल बिड नहीं खुली है। वहीं महाराजगंज में तो टेक्निकल बिड बी न खुलने की जानकारी है।

स्पष्टीकरण तलब

जिन 30 जिलों में स्वेटर खरीदने की प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है, स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने वहां के जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों से तीन दिन में स्पष्टीकरण तलब किया है। साथ ही सभी जिलों के बेसिक शिक्षा अधिकारियों को आदेश जारी किये गए हैं कि वह अपने-अपने जिलों में जल्द से जल्द बच्चों को स्वेटर बंटवाने की प्रक्रिया को खत्म करकें रिपोर्ट दें।



Advertisement