महंगा हो जाएगा यूपी में आय, जाति और राशन कार्ड का आवेदन,  65 हजार सीएससी संचालकों की बढ़ेगी आय

लखनऊ. प्रदेश में आय, जाति, राशन कार्ड से लेकर निवास प्रमाणपत्र का आवेदन महंगा हो जाएगा। ई-डिस्ट्रिक्ट परियोजना के तहत मौजूदा समय में प्रदेश के गांव से लेकर शहरों तक करीब 65 जनसेवा केंद्र (सीएससी) कार्य कर रहे हैं। इन जन सेवा केंद्र के जरिये लोग सरकारी योजनाओं के लिए आवेदन करते हैं। अभी तक सीएससी के जरिए प्रमाणपत्र व अन्य योजनाओं में आवेदन करने पर 20 रुपए का शुल्क पड़ता है। एडीएम (वित्त एवं राजस्व) विपिन मिश्रा ने बताया कि 16 तारीख से सीएससी से आवेदन करने पर 30 रुपए का शुल्क पड़ेगा। 16 नवंबर से सीएससी के तहत यह योजना लागू हो जाएगी। इससे सीएससी संचालकों की आय भी बढ़ेगी। जहां पहले प्रति आवेदन पर सीएससी संचालकों को 20 रुपये में मात्र चार से पांच रुपये कमीशन मिलता था। अब यह बढ़कर 12 से 15 रुपये हो जाएगा।

सभी 75 जिलों में दो संस्थाएं सर्विस प्रोवाइडर

जन सेवा केन्द्र योजना के संचालन के लिए सभी 75 जिलों में अब दो डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर (डीएसपी) संस्थाएं काम करेंगी। लखनऊ में दो डीएसपी संस्थाएं सीएससी वाईफाई चौपाल और एसआरईआई इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस लिमिटेड काम करेंगी।

ये भी पढ़ें: बैंक करे किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने या लोन देने में आनाकानी तो ऐसे करें शिकायत

ये भी पढ़ें: छह दिन पहले दफनाया शव मिला कब्र से बाहर, पास में मिली हरे रंग की चुनरी, जादू टोना का शक



Advertisement