मुख्तार अंसारी के चहेते प्राॅपर्टी डीलर गणेश दत्त मिश्रा समेत दो पर मुकदमा दर्ज

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजीपुर. बाहुबली मुख्तार अंसारी के करीबी एक-एक करके योगी सरकार के निशाने पर आ रहे हैं। कार्रवाई की जद में ताजा नाम मुख्तार के बेहद करीबी कहे जाने वाले उनके चहेते प्राॅपर्टी डीलर गाजीपुर के गणेश दत्त मिश्र का है, जिन्हें पुलिस मुख्तार गैंग का सक्रिय सदस्य भी बताती है। पुलिस ने गणेश दत्त मिश्रा समेत दो लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया है। इसके पहले पुलिस उनके दो लाइसेंस निलंबित कर असलहा जब्त करने की कार्रवाई कर चुकी है।

 

गणेश दत्त मिश्रा पर विधवा से पैसे लेकर जमीन न देने के आरोप में पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। मरदह पचोत्तर के सुलेमानपुर देवकली निवासी कांति पाण्डेय पत्नी स्व. जयराम पाण्डेय का आरोप है कि उनके पति जब रिटायर होकर आए तो गणेश दत्त मिश्रा ने प्लाटिंग की योजना बताकर उनसे 6 लाख 10 हजार रुपये लेकर फर्जी जमीन का बैनामा कर दिया। जब हम जमीन का कब्जा लेने गए तो मालूम हुआ कि जमीन किसी दूसरे की है। आरोप है कि कब्जा न मिलने के बाद जब वो वापस गणेश दत्त मिश्रा के पास गए तो उन्होंने मुख्तार अंसारी की धौंस देते हुए जमीन और पैसा दोनों देने से इनकार कर भगा दिया। शिकायत पर गाजीपुर कोतवाली पुलिस गणेश दत्त मिश्रा समेत दो लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत दो धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन में जुट गई है।

 

दो शस्त्र लाइसेंस हो चुके हैं निरस्त

बाहुबली मुख्तार अंसारी गैंग के सदस्य और उनके करीबी गणेश दत्त मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई करते हुए 22 सितम्बर को उनकी 315 बोर की एनपीबी राइफल और 32 बोर का एनपीबी पिस्टल लाइसेंस निलंबित कर दिया गया। पुलिस ने दोनों असलहों को कब्जे में लेकर थाने में जमा कर लिया। अब तक मुख्तार अंसारी परिवार व करीबियों के समेत गैंग से जुड़े लोगों करीब दर्जनों लोगो के शस्त्र लाइसेंस निलंबित और निरस्त कर असलहे जब्त किये गए हैं।

By Alok Tripathi



Advertisement