कई जिलों में बारिश तेज हवाओं से बढ़ी ठंड, पश्चिमी विक्षोभ के चलते बदला मौसम

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

वाराणसी/गोरखपुर. दिवाली बीतते ही मौसम ने अचानक करवट ली है और सुबह आसमान में बादलों का कब्जा रहा और कई शहरों में हल्की बारिश हुई तो तेज हवाएं भी चलीं। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी और बारिश के असर के चलते ऐसा हो रहा है। उधर पश्चिमी विक्षोभ के चलते दिल्ली में भी बारिश और तेज हवाएं चलीं। इन सबके नतीजे में उत्तर प्रदेश खासतौर से पूर्वी यूपी में मौसम में बदलाव देखने को मिला है। यहां वाराणसी, आजमगढ़, गोरखपुर और गाजीपुर सहित पूर्वांचल के कई जिलों में सुबह-सुबह तेज हवाओं के साथ बूंदाबांदी हुई।

 

लोकल हीटिंग और वातावरण में नमी के चलते बूंदाबांदी की संभावना बन रही थी। बीते 24 घंटे में अधिकतम और न्यूनतम तापमान भी दो-दो डिग्री अधिक रहा। अधिकतम तापमान 31.8 डिग्री और न्यूनतम तापमान 17.6 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि आर्द्रता 54 फीसदी दर्ज की गई। सेलेलाइट से जारी तस्वीरों में भी पूर्वांचल में बादलों की सक्रियता बनी रही। मौसम विभाग की वेबसाइट पर मिर्जापुर में यलो अलर्ट दिया गया है, यानि वहां गरज चमक के साथ बारिश होने की संभवना है।

 

गोरखपुर के मौसम विभाग के वैज्ञानिक तीर्थेन्द्र बहादुर सिंह ने बताया कि वेस्टर्न डिस्टर्बेंस की वजह से एक लो प्रेशर एरिया बना है। उसी के चलते मौसम में ये बदलाव आया है। करीब दिन भर इसका असर रहेगा।

 

बताते चलें कि मौसम विभाग और मौसम वैज्ञानित पहले ही चेता चुके हैं कि कमजोर ला नीना के चलते इस बार कड़ाके की सर्दी पड़ेगी और सर्दी का अंतराल भी थोड़ा लम्बा रहने का अनुमान है।



Advertisement