पिछले वर्ष से अधिक ठंडा लेकर आया नवंबर, तापमान में आयी कमी, बढ़ी सर्दी

लखनऊ. इस वर्ष कड़ाके की ठंड पड़ने की मौसम विभाग की भविष्यवाणी के संकेत अभी से मिलने लगे हैं। नवंबर का महीना पिछले साल के मुकाबले इस साल अधिक ठंड के साथ शुरू हुआ है। सुबह धुंध की चादर में लिपटी रही। सोमवार को न्यूनतम तापमान काफी नीचे रहा तो अधिकतम तापमन में भी गिरावट देखने को मिली। बीते साल के मुकाबले यह न्यूनतम में तीन और अधिकतम में दो डिग्री कम रहा। हालांकि फिलहाल तो मौसम में कोई बड़े बदलाव के संकेत नहीं हैं, लेकिन आने वाले दिनों में तापमान की ये गिरावट सर्दी बढ़ाएगी।

 

सोमवार को लखनऊ व आसपास के इलाकों में अच्छी खासी ठंड रही। लखनऊ में सोमवार केा न्यूनतम तापमान 14.4 डिग्री सेल्सियस जबकि अधिकतम तापमान 29.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो बीते वर्ष दो नवंबर के तापमान से कम है। पिछले साल दो नवंबर को अधिकतम तापमान 31.1 था जो इस बार से 1.3 डिग्री अधिक है जबकि न्यूनतम तापमान 17.8 था जो इस बार से 3.4 डिग्री अधिक है।

 

सर्दी धीरे-धीरे बढ़ रही है। आलम ये है कि ओस के चलते सुबह धुंध की चादर बिछी दिख रही है तो दिन में सूरज की तल्खी कम हुई है। हवाओं के चलते शाम के वक्त ठंड महसूस हो रही है। रात में ठंड बढ़ने से एसी, कूलर और पंखे बंद हो गए हैं। रात को ओस के चलते सुबह धुंध भी हो रही है। मैदानी और ग्रामीण इलाकों में ठंड का एहसास ज्यादा है।

 

आंचलिक मौसम विज्ञान केन्द्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया है कि वातावरण में मौजूद ओस की बूंदों के चलते सुबह धुंध दिख रही है। हवा में मौजूद पार्टिकल्स के भी नीचे ही रुके रहने से धुंध नजर आने लगती है।



Advertisement