विधायक का पत्र मुख्यमंत्री के नाम, सीडीओ के स्टेनो पर गंभीर आरोप

उन्नाव. पुरवा विधायक अनिल सिंह द्वारा मुख्यमंत्री को लिखा गया पत्र जनपद में चर्चा का विषय बना है जिसमें उन्होंने लिखा है कि मुख्य विकास अधिकारी कार स्टेनो सपा मानसिकता से काम करते हुए ऑफिस में बैठकर ही शराब पीता है। मानक के विपरीत जनपद में विगत 19 सालों से अपनी सेवाएं दे रहा है। इस संबंध में मुख्य विकास अधिकारी डॉ राजेश प्रजापति ने कहा कि शासन से चिट्ठी आई थी जिसमें रिपोर्ट लगाकर भेज दिया गया है।

पुरवा विधायक अनिल सिंह ने विगत 27 अक्टूबर को मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार के विषय में जानकारी दी थी। निशाने पर सीडीओ के स्टेनो संजय यादव थे। जो 2001 से स्टेशनों के पद पर कार्यरत हैं। अपने पत्र में विधायक अनिल सिंह ने उक्त जानकारी देते हुए पत्र में लिखा है कि एक जनपद में अधिकतम 3 साल तक और मंडल में अधिकतम 7 वर्ष तक ही कर्मचारी रह सकता है। लेकिन संजय यादव विगत 19 वर्षों से एक ही पद पर कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि सांसद निधि का कार्य जिला ग्राम्य विकास अभिकरण के लेखाकार द्वारा संपादित होता है। लेकिन यहां पर यह काम भी संजय यादव द्वारा देखा जा रहा है।

दारू मुर्गा के नाम पर वसूली का आरोप

उन्होंने सीडीओ के स्टेनो द्वारा विकास भवन के ही कर्मचारियों से दारू और मुर्गा के नाम पर वसूली हो रही है। विगत 1 फरवरी 2020 को तत्कालीन जिलाधिकारी देवेंद्र कुमार पांडे ने संजय यादव का स्थानांतरण वीडियो कार्यालय में कर दिया था। लेकिन आदेश का पालन अभी तक नहीं हुआ है। इस संबंध में बातचीत करने पर मुख्य विकास अधिकारी डॉ राजेश प्रजापति ने कहा कि शासन से रिपोर्ट मांगी गई थी। जिसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंप दी गई है।



Advertisement