सपा का कांग्रेस पर बार बोली, कांग्रेस के नकारेपन ने बिहार में बीजेपी को दिलाई जीत

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. बिहार विधानसभा व उपचुनाव में बीजेपी की बड़ी जीत के बाद सियासत तेज हो गयी है। यूपी में सत्ता का सेमीफाइनल माने जा रहे उपचुनाव में हार के बाद कार्यकर्ताओं का मनोबल न टूटे इसलिए सपा बीजेपी पर पूरी तरह हमलावर हो गयी है। पार्टी ने चुनाव में बीजेपी पर धांधली का आरोप लगाया है। दावा किया है कि यूपी में बीजेपी ने धनबल और सत्ता का दुरूपयोग कर उपचुनाव जीता है जबकि बिहार में कम वोट से जीतने वाले राजद प्रत्याशियों को प्रमाण पत्र ही नहीं देने दिया। यही नहीं सपा ने बीजेपी के जीत के लिए कांग्रेस के नकारेपन को जिम्मेदार बताया।

सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कहा कि बिहार चुनाव में भारी पैमाने पर धांधली की गयी। कम वोटों से जीते राजद गठबन्धन के प्रत्याशियों को प्रमाण-पत्र नहीं दिया गया। कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व की संगठनात्मक नाकामियों के कारण सही प्रत्याशियों का चयन न होने व कार्यकर्ताओं के नकारेपन से भाजपा गठबन्धन को अवसर मिला।

उन्होंने कहा कि ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने कई सीटों पर महागठबंधन का नुकसान किया और भाजपा की राह आसान बना दी। कांग्रेस को जनता स्वीकार नही कर रही है। जिसके कारण तेजस्वी को नुकसान उठाना पड़ा। वहीं बीजेपी ने यूपी उपचुनाव में सत्ता व धनबल का खुला दुरुपयोग किया। बीजेपी ने सारी हदें पार कर दी है। 2022 में जनता योगी सरकार के किसान, बेरोजगार, गरीब व दलित, पिछड़ा व अक्लियत विरोधी नीति तथा कमरतोड़ महंगाई का जवाब देगी। वर्ष 2022 में अखिलेश यादव का मुख्यमंत्री बनना तय है। कारण कि प्रदेश की जनता योगी सरकार की नीतियों से त्रस्त है।

BY Ran vijay singh



Advertisement