भाई दूज पर बहन को मिला जीवनभर का दर्द, पति और भाई की दर्दनाक हादसे में मौत

अलीगढ़. पत्नी के साथ पहली भैया दूज पर ससुराल आए एक युवक समेत दो लोगों की हादसे में दर्दनाक मौत का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि युवक अपने साले के साथ बाइक पर सवार होकर खरीदारी करने बाजार गया था। वहां से लौटते समय उनकी बाइक की किसी अज्ञात वाहन सेे टक्कर हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि जीजा-साले ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेेते हुए पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया और मृतकों के परिजनों को सूचना दी। सूचना मिलते ही परिवार में हाहाकार मच गया। परिजनों की शिकायत पर अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज कर उसकी तलाश में जुटी है।

यह भी पढ़ें- ऑनर किलिंग- प्रेमी से शादी करना चाहती थी लड़की, पिता ने गडासे से कर दी हत्या, पुलिस के सामने कबूला जुर्म

दरअसल, बुलंदशहर जिले के शिकारपुर थाना क्षेत्र स्थित मामऊ गांव निवासी 20 वर्षीय ललतेश पुत्र हिम्मत सिंह की शादी पांच महीने पहले लॉकडाउन में अलीगढ़ के जवां थाना क्षेत्र स्थित गांव आलमपुर सुबकरा में हुई थी। इस शादी से दोनों परिवार खुश थे। इसलिए ललतेश अपनी शादी के बाद पहली भैया दूज मनाने पत्नी के साथ रविवार दोपहर को ही ससुराल आलमपुरा सुबकरा आया था। बताया जा रहा है कि ललतेश रविवार देर शाम कुछ सामान खरीदने के लिए अपनी पत्नी के 18 वर्षीय भाई रतन सिंह पुत्र राजकुमार को लेकर बाइक से अलीगढ़ गया था। दोनों को बाजार में खरीदारी के दौरान रात हो गई। देर रात दोनों सामान लेकर बाइक से घर लौट रहे थे। इसी बीच नगला पटवारी से आगे आमरौली रोड पर एक निजी नर्सिंग होम के सामने उनकी बाइक की एक अज्ञात वाहन से आमने-सामने की टक्कर हो गई। बताया जा रहा है कि दोनों जीजा-साले ने हेलमेट नहीं लगया हुआ था। इस कारण दोनों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची थाना क्वार्सी पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। इसके साथ ही उनके कपड़ों से मिले दस्तावेजाें के आधार पर परिजनों को हादसे की सूचना दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे परिजनों ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। थाना क्वार्सी इंस्पेक्टर छोटेलाल ने बताया कि परिजनों की तहरीर के आधार पर पुलिस अज्ञात वाहन चालक की तलाश में जुटी है। इसके लिए घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को तलाशा जा रहा है।

त्यौहार पर दो परिवारों में मातम

इस घटना की सूचना मिलते ही अलीगढ़ के जवां थाना क्षेत्र स्थित गांव आलमपुर सुबकरा और बुलंदशहर के शिकारपुर क्षेत्र स्थित मामऊ गांव में हाहाकार मच गया। ललतेश की नवविवाहिता जो मायके में भाई दूज मनाने आई थी, उसका रो-रोकर बुरा हाल है। पति और भाई की मौत के गम में वह बार-बार बेहोश हो रही है। वहीं अन्य परिजन भी अपना दुख छिपाकर उसे ढांढस बंधाने का प्रयास कर रहे हैं। परिजनों का कहना है कि दामाद जी पहली बार भैया दूज पर घर आए थे। सब लोग खुश थे, लेकिन उन्हें क्या पता था कि उनकी ये खुशियां ज्यादा देर की नहीं हैं।

यह भी पढ़ें- Bhai Dooj 2020: जेल में बंद भाइयों को तिलक करने पहुंची सैकड़ों बहनों के चेहरे पर छाई उदासी



Advertisement