ग्रेनो के फ्लैट में सहारनपुर के कारोबारी दम्पति की बेरहमी से हत्या, अमेरिका में रहता है बेटा

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
ग्रेटर नोएडा/सहारनपुर । ग्रेटर नोएडा की चेरी काउंटी सोसाइटी में रह रहे सहारनपुर के एक कारोबारी दंपत्ति की उनके फ्लैट में ही बेरहमी से हत्या कर दी गई। घर के अंदर रखे पीतल के फ्लावर पोट से दोनों के सिर पर जानलेवा हमला किया गया। वारदात के समय पति खाना खा रहे थे और पत्नी ने रसाेई में खाना बना रही थी। हत्या के पीछे के कारणों का पता नहीं चल सका है हत्यारों की पहचान के लिए पुलिस सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है। दोनों के शव पोस्टमार्टम के लिए भेजे गए हैं।

सहारनपुर के रहने वाले विनय कुमार गुप्ता अपनी पत्नी नेहा के साथ ग्रेटर नोएडा की चेरी काउंटी सोसाइटी के फ्लैट नंबर 906 में रहते थे। व्यापारी दंपति इसी सोसाइटी में जनरल स्टोर चलाता था। इनका बड़ा बेटा लव अमेरिका में नौकरी करता है जबकि छोटा बेटा कुश दादा-दादी के साथ नोएडा के सेक्टर 122 नंबर फ्लैट में रहता है। बुधवार काे इनकी बेरहमी से हत्या कर दी गई। जब बेटा फ्लैट पर पहुंचा ताे दाेनाें दम ताेड़ चुके थे।

फर्श पर पड़े मिले दोनों के शव
प्राथमिक पड़ताल में पता चला है कि छोटे बेटे कुश ने बुधवार अपने मम्मी पापा को फोन किया लेकिन कॉल रिसीव नहीं हुई। इसके बाद उसने कई बार फोन किया लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ। जब कई कॉल करने के बाद भी फोन रिसीव नहीं हुआ तो बेटा फ्लैट पर पहुंचा। यहां अंदर का हाल देखकर उसके पैरों तले से जमीन खिसक गई। माता-पिता के खून से लथपथ शव फर्श पर पड़े हुए थे। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की लेकिन प्राथमिक पड़ताल में कोई खास सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगे।

अपर पुलिस आयुक्त कानून एवं व्यवस्था लव कुमार ने बताया कि फ्लैट के अंदर घुसकर ही दंपति की हत्या की गई है। हत्या के पीछे के कारणों का पता नहीं चल सका है। हत्यारों का पता लगाने के लिए पुलिस सीसीटीवी कैमरे खंगाल रहे हैं। क्राइम सीन काे देखकर ऐसाा लगता है कि वारदात काे किसी परिचित ने अंजाम दिया हाे लेकिन जब तक सबूत हाथ नहीं लग जाते तब तक सिर्फ कयास ही लगाए जा सकते हैं। पुलिस कई एंगल पर काम कर रही है जल्द घटना का खुलासा कर हत्यारों कााे पकड़ लिया जाएगा।

दो महीने पहले ही फ्लैट में हुए थे शिफ्ट
व्यापारी दंपति करीब दाे महीने पहले ही चेरी काउंटी साेसाइटी के फ्लैट में शिफ्ट हुआ था। इससे पहले यह सभी सेक्टर 122 में ही रहते थे। मूल रूप से कारोबारी सहारनपुर के रहने वाले हैं लेकिन वह पिछले करीब 25 वर्षो से गाजियाबाद में रह रहे थे। विनय गुप्ता ने पार्षदी का चुनाव भी लड़ा था।



Advertisement