छठ पूजा को लेकर ग’रमा’ई सि’या’सत, बीजेपी ने केजरीवाल सरकार पर सा’धा नि’शा’ना

आ’स्था का म’हापर्व छठ पूजा का काफी मह’त्त्व है और इसी वजह से बिहार में इस प’र्व को बेहद ही धू’मधाम से मनाया जाता है. इतना ही नहीं छठ पूजा के लिए लोग जहाँ भी होते है वो अपने घर जरुर पहुँचते है. लेकिन इस बार छठ पूजा पर भी कोरोना का ग्र’ह’ण लग गया है. दरअसल कोरोना के का’रण ही मुंबई और दिल्ली में नदी किनारे और मंदिरों में बड़े पै’मा’ने पर पूजा करने पर रो’क लगा दी गयी है. और BMC ने इस पर रो’क लगते हुए मंगलवार को दि’शा नि’र्दे’श जा’री किये. वही दिल्ली सरकार भी पहले ही इस पर रो’क लगा चुकी है.

जिसके बाद अब बीजेपी की दिल्ली इ’काई ने नदी के किनारों, मंदिरों में और अन्य सार्व’ज’निक स्था’नों पर छठ पूजा आयो’जित करने पर लगे प्र’ति’बं’ध को ह’टाने की मां’ग ते’ज करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के सामने प्र’द’र्शन किया है. इस दौरान पूर्वांचल मो’र्चा के अ’ध्यक्ष कौशल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ‘पूर्वां’चल वि’रोधी’ कहते हुए कहा कि इस प्रति’बं’ध से दिल्ली में रहने वाले बिहार एवं पूर्वांचल के लोगों की धा’र्मिक भा’व’ना’यें आह’त हुई है. बीजेपी की दिल्ली इकाई के उपाध्यक्ष दिनेश प्रताप सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी की सरकार अगले 24 घंटे के अंदर अपने ‘तु’ग’ल’की फ’र’मान’ को वा’पस ले ले, नहीं तो पू’र्वां’चल के लोग इसे उचित समय पर स’बक सिखाएंगे.

साथ ही साथ सिंह ने सवाल उठाते हुए कहा कि  केजरीवाल ने सा’प्ता’हि’क बाजारों, मॉ’लों और शराब की दुकानों को खोल दिया है और पूरी क्ष’म’ता के साथ डीटीसी बसों को चलाने की अ’नु’म’ति दी है तो वह छठ म’हा’प’र्व को प्र’ति’बं’धि’त कर पूर्वां’चल के लाखों लोगों के साथ भे’द’भा’व क्यों कर रहे हैं. जाहिर है महा’पर्व छ’ठ को लेकर बिहार और पूर्वां’चल के लोगो के लिए काफी मह’त्त्व है और इसी वजह से इस पर्व का इं’त’जार वो साल भर करते है.



Advertisement