सिपाही हत्याकांड: छह दिन में छह गिरफ्तार, सोनू को कुचलने वाले की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी जारी

आगरा. यूपी पुलिस के जवान की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या के मामले में पुलिस अभी तक मुख्य आरोपियों तक नहीं पहुंच सकी है। हालांकि पुलिस की टीमें लगातार दबिश देकर हत्यारोपियों को पकड़ने के प्रयास में जुटी हैं। अब तक पुलिस इस हत्याकांड में दो हत्यारोपियों समेत उनके साथ अवैध खनन करने वाले आधा दर्जन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। फिलहाल ट्रैक्टर चालक और ट्रैक्टर मालिक फरार है। पुलिस की टीम इनकी तलाश में पिछले छह दिन से ताबड़तोड़ दबिश दे रही है, लेकिन अब तक सफलता नहीं मिल सकी है।

यह भी पढ़ें- Bulandshahr incident आराेपी पुलिसकर्मी सस्पेंड, पीड़ित परिवार के घर मिठाई लेकर पहुंचे अफसर

उल्लेखनीय है कि सिपाही साेनू चौधरी की रविवार तड़के खैरागढ़ के सोन का बड़ा नगला में ट्रैक्टर से कुचलकर खनन माफिया के गुर्गों ने हत्या कर दी थी। क्राइम ब्रांच के अलावा कुल आठ पुलिस टीम हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास में लगी हैं। गुरुवार को पुलिस ने खेरागढ़ क्षेत्र से धौलपुर कौलारी के रहने वाले कलेक्टर सिंह समेत अन्य लोगों को जेल भेज दिया। वहीं, सैंया पुलिस ने खरगपुर के रहने वाले प्रकाश को जेल भेजा था। बताया जा रहा है कि कलेक्टर सिंह और प्रकाश उसी ट्रैक्टर पर सवार थे, जिससे कुचलकर सिपाही सोनू चौधरी की हत्या की गई थी। ट्रैक्टर मालिक अनूप और चालक बबलू है, जो खरगपुर के रहने वाले हैं। वहीं, खरगपुर निवासी हेत सिंह संगठित तरीके से अवैध खनन करवाता है। ये लोग अभी फरार हैं।

इन हत्यारोपियों की नहीं हो सकी गिरफ्तारी

बता दें अभी तक पुलिस ने खरगपुर निवासी प्रकाश, वीरबल, सियाराम, नवाब सिंह, विष्णु, सुंदर सिंह, कलेक्टर सिंह और हिम्मत सिंह को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। वहीं, हेत सिंह, सुरेंद्र सिंह, गजेंद्र सिंह, अनूप सिंह, बबलू, रविंद्र सिंह व वीरू की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। क्राइम ब्रांच और पुलिस हत्यारोपितों की तलाश में उनकी रिश्तेदारियों में भी ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है।

यह भी पढ़ें- दिवाली पर मातम: गृह क्लेश में पत्नी काे गाेली मारने के बाद पति ने की आत्महत्या



Advertisement