एसपी की दिल को छू लेने वाली पहल, बीमार लड़की को खुद पहुंचाया अस्पताल

बाराबंकी. जनपद बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक डॉ. अरविंद चतुर्वेदी ने एक ऐसा काम किया पूरे देश में शायद ही कोई बड़ा अधिकारी करता हो। एसपी ने मिशाल पेश करते हुए पहले एक बीमार लड़की के गांव पहुंचकर उसका हाल जाना फिर उसे खुद लेकर राजधानी लखनऊ के अस्पताल गए और डॉक्टरों को भी बेहतर इलाज के लिए प्रेरित किया। हालाकि लड़की की इलाज के दौरान मौत हो गयी, लेकिन पुलिस अधीक्षक की इंसानियत लोगों के दिलो में घर कर गयी।

कई दिनों से बीमार चल रही थी लड़की

बाराबंकी जनपद के थाना मोहम्मदपुर खाला इलाके के गांव चैनपुरवा में काफी दिनों से एक लड़की बीमार चल रही थी, जिसकी जानकारी एसपी को हुई और उन्होंने तुरंत बीमार लड़की के गांव पहुंच कर उसका हाल जाना और खुद उसे लेकर राजधानी लखनऊ के एक अस्पताल गए। अस्पताल में एसपी ने डॉक्टरों से मिलकर लड़की को अच्छे से अच्छा इलाज देने के लिए प्रेरित किया। यह सब देख कर ऐसा लग रहा था कि जैसे एसपी के घर का कोई सदस्य बीमार हो और वह उसके लिए परेशान हों।

रंग लाई एसपी की मेहनत

चैनपुरवा वही गांव है जहां की दशा और दिशा सुधारने के लिए बाराबंकी के एसपी डॉक्टर अरविन्द चतुर्वेदी इन समय दिन-रात एक किये हुए हैं। यह गांव पहले अवैध शराब के निर्माण और उसके कारोबार पर आश्रित था, लेकिन एसपी ने उनसे यह अवैध धंधा बंद करवाकर उन्हें सम्मान का रोजगार उपलब्ध करवाया। आज एसपी से प्रेरित यह गांव तरक्की पर है और मधुमक्खी पालन, दियों के निर्माण में अग्रणी भूमिका अदा कर रहा है।

एसपी का गांव से खास जुड़ाव

इसीलिए एसपी का इस गांव से बेहद जुड़ाव है और कल जैसे ही इन्हें बीमार लड़की के बारे में जानकारी मिली तो वह स्वयं गांव पहुंचकर लड़की को बेहतर इलाज के लिए लखनऊ लेकर पहुंच गए। हालांकि लड़की की इलाज के दौरान दुखद मृत्यु हो गयी, लेकिन एसपी डॉक्टर अरविन्द चतुर्वेदी का यह व्यवहार लोगों के दिलो को छू गया।



Advertisement