निजी कंपनियां चलाएंगी गोरखपुर से दिल्ली, मुंबई और बेंगलूरू के लिये ट्रेनें

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गोरखपुर. भारतीय रेलवे की पहली सेमी हाई स्पीड और प्लेन जैसी सुविधाओ वाली लक्जरी तेजस एक्सप्रेस ट्रेन की तर्ज पर रेलवे 5 दर्जन और गाड़ियां चलाने जा रहा है। रेलवे बोर्ड की बैठक में इसपर सहमति बन गई है। इन में से तीन ट्रेनें गोरखपुर से चलेंगी। गोरखपुर से दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरू के लिए तेजस की तर्ज पर ट्रेनें प्राइवेट कंपनियां चलाएंगी। रेलवे केवल उनका ऑपरेशन कार्य देखेगा। इसके लिये जल्द ही टेंडर प्रक्रिया पूरी की जाएगी, जिसके बाद इनके चलने की तिथि तय की जाएगी।


पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जन संपर्क अधिकारी पंकज सिंह ने बताया कि रेलवे बोर्ड की बैठक में गोरखपुर से दिल्ली, मुंबई व बेंगलुरू के लिए प्राइवेट ट्रेनों के संचालन पर मुहर लग गई है। इन ट्रेनों का काम पूरी तरह से निजी कंपनियों के हाथों में होगा। रेलवे की जिम्मेदारी केवल इसके ऑपरेशनल कार्य की होगी। उन्होंने बताया कि रेलवे बोर्ड की बैठक में पांच दर्जन ट्रेनों के चलने पर सहमति बनी है। इसमें तीन गोरखपुर से हैं। रुट को लेकर भी स्तिथी साफ हो चुकी है।


उन्होंने बताया कि पूर्वोत्तर रेलवे की ओर से पीसीओम बोर्ड की बैठक में शामिल हुए थे। भारतीय रेलवे द्वारा सुरक्षा, बेहतर गति और विमान जैसी लक्जरी सुविधा प्रदान करने वाली इन ट्रेनों में यात्रियों के लिये कई अनुकूल फीचर्स होंगे। जैसे कि हेडफोन के साथ पर्सनलाइज्ड एलसीडी स्क्रीन, मनोरंजन-सह-सूचना स्क्रीन, बोर्ड वाईफाई, मॉड्यूलर बायो-शौचालय, आरामदायक सीट आदि। यात्री मनोरंजन और सूचना प्रणाली का विशेष ध्यान रखा गया है।



Advertisement