स्वास्थ्य संबंधी प्रलोभन देकर नमाज पढ़वाने का आरोप, शुद्धिकरण कराकर हिंदू धर्म में परिवार ने की वापसी

बहराइच. बहराइच जिले के नानपारा में धर्म परिवर्तन कर चुके एक परिवार ने शुद्धिकरण कर हिंदुत्व धर्म को अपनाया। शनिवार को हिंदुत्तवादी संगठनों ने शुद्धि संस्कार कराकर परिवार की हिंदु धर्म में वापसी कराई है। उधर, धर्मांतरण की सूचना पर प्रशासन में हड़कंप मच गया। विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, गायत्री परिवार के पदाधिकारियों ने बताया कि स्वास्थ लाभ का प्रलोभन देकर धर्मान्तरण कराया गया था जबकि प्रशासन ने धर्मान्तरण की घटना को ही नकार दिया है।

हिंदू धर्म में वापसी की इच्छा

नानपारा कोतवाली के मझौवा के मजरे छोटा भुलौरा निवासी पतीराम आर्या ने कोतवाली में छह लोगों को नामजद कर तहरीर दी थी कि परिवार से अलग रह रहे उसके बड़े बेटे सुभाष (35), बहू मीरा (32) व उनका बेटा दीपक (16) ने इस्लाम में धर्म परिवर्तन किया है। इसकी जानकारी लेने पर सुभाष, मीरा व दीपक ने उसके साथ मारपीट की है। सूतना मिलने पर धर्म जागरण संयोजक रोहित चौरसिया, बजरंग दल के जिला संयोजक दीपक श्रीवास्तव ने छोटा भुलौरा पहुंचकर गांव में सुभाष, मीरा व उसके बेटे दीपक से मुलाकात की। परिवार ने हिंदू धर्म में वापसी करने की इच्छा जताई।

स्वास्थ्य संबंधी प्रलोभन देकर पढ़ाई नमाज

शनिवार की सुबह परिवार का शुद्धि संस्कार कराकर उनकी हिंदू धर्म में वापसी कराई गई। धर्म जागरण मंच के रोहित चौरसिया ने बताया कि सुभाष व उसके परिजनों से जानकारी करने पर पता चला कि महिला व उसके बेटे को स्वास्थ्य सम्बन्धी प्रलोभन देकर नमाज पढ़वाई गई। इन लोगों को मांस भक्षण भी कराया जा रहा था। जानकारी मिलते ही परिवार में हड़कंप मच गया। पुलिस में कंप्लेन करने के बाद कार्रवाई हुई तो बात सच निकली। इसके बाद पूरे परिवार का शुद्धिकरण कराकर उन्हें वापस हिंदू धर्म में परिवर्तित किया गया।

ये भी पढ़ें: शहीदों के नाम पर बनेंगी प्रदेश की 20 सड़कें, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा सड़कों पर बोर्ड लगाकर बताई जाएंगी उनकी शौर्य गाथा

ये भी पढ़ें: UP Top Ten News: लखनऊ से बनारस जा रही बस अमेठी में पलटी



Advertisement