छेड़खानी से परेशान छात्रा ने किया सुसाइड, सुसाइड नोट में लिखा- पुलिस बनकर करना चाहती थी माता पिता का सिर गर्व से ऊंचा

झांसी. उत्तर प्रदेश सरकार एक ओर मिशन शक्ति के तहत महिलाओं को सुरक्षा देने में जुटी है, तो दूसरी ओर मनचलों में कानून का खौफ खत्म होता नजर आ रहा है। उत्तर प्रदेश के झांसी में एक छात्रा ने छेड़खानी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। उसने सुसाइड नोट भी छोड़ा है जिसमें पड़ोस में रहने वाले लड़के आकाश का नाम लिखा है। छात्रा ने बताया कि वही उसकी मौत की वजह है। कोचिंग से आते जाते वक्त वह उसे छेड़ता था। सुसाइड नोट में छात्रा ने ये भी कहा कि उसकी मौत का बदला जरूर लिया जाए।

झगड़े से आहत होकर खाया जहर

मामला झांसी के एरच थाना क्षेत्र का है। यहां के एक गांव में 11वीं में पढ़ने वाली छात्रा से उसका पड़ोसी आकाश छेड़छाड़ करता था। छात्रा ने ये बात अपने परिवार को बताई थी, लेकिन लोक लाज के चलते परिजनों ने पुलिस से इसकी शिकायत नहीं की, जबकि आपस में ही मामला सुलझाने की कोशिश की। इसके बाद भी आरोपी आकाश को राहत नहीं मिली। उसने पीड़ित छात्रा को परेशान करना बंद नहीं किया। शुक्रवार को भी आरोपी ने लड़की से छेड़छाड़ की। यह बात लड़की ने अपने माता पिता को बताई तो उन्होंने आरोपी परिवार से इसकी शिकायत की। इसी बात पर दोनों परिवारों के बीच झगड़ा होने लगा। झगड़े के बीच ही छात्रा ने जहर खा लिया। छात्रा की जान बचाने के लिए उसे मेडिकल कॉलेज भी ले जाया गया लेकिन तब तक उसकी जान जा चुकी थी।

पुलिस बनना चाहती थी छात्रा

छात्रा की मौत से परिवार में कोहराम मच गया। मामला पुलिस तक पहुंचा। पुलिस ने छात्रा के बैग की तलाशी ली, तो उसमें सुसाइड नोट मिला जिसमें लिखा था, 'मम्मी-पापा हमें माफ कर देना, मगर हमारी मौत का बदला जरूर लेना। हमारी मौत का कारण सिर्फ आकाश और उसके घर वाले हैं। पापा-मम्मी अपने आप को संभाल लेना और हमारी मौत का बदला लेना। हम चाहते थे कि हम आपका सिर गर्व से ऊंचा करेंगे पुलिस बनकर।' एसपी दिनेश कुमार पी ने बताया कि परिजनों की तहरीर पर केस दर्ज किया गया है। आरोपियों के परिवार वालों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मुख्य आरोपी अब भी फरार है, जबकि उसकी तलाश में तीन टीमें लगी हुई हैं।

ये भी पढ़ें: स्वास्थ्य संबंधी प्रलोभन देकर नमाज पढ़वाने का आरोप, शुद्धिकरण कराकर हिंदू धर्म में परिवार ने की वापसी

ये भी पढ़ें: अतीक अहमद पर शिकंजा, अहमदाबाद जेल में पुलिस ने की मैराथन पूछताछ



Advertisement