कुछ इस तरह 2022 में दुर्गा का किला भेदेगी बीजेपी, तय की गयी बूथ वार रणनीति

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में हारी हुई 82 सीटों पर जीत हासिल करने के लिए बीजेपी ने रणनीति बनायी शुरू कर दी है। सदर विधान सभा के प्रभारी बनाए गए आवास विकास परिषद के उपाध्यक्ष अश्वनी त्रिपाठी ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर जीत की रणनीति बनाई इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर जमकर हमला बोला।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता साधक के रूप में काम करता है वही अन्य दलों के लोग राजनीति को साधन मानते हैं। आज आजमगढ़ के कार्यकर्ता जबरदस्त उत्साह से भरे हैं और आने वाले दिनों में इसी उत्साह के दम पर सदर विधानसभा में भाजपा का विधायक चुना जाएगा। हम हार से निराश होकर कभी रुकते नहीं, कभी थकते नहीं बल्कि हम उससे प्रेरणा लेकर आगे बढ़ते हैं।

श्री त्रिपाठी ने कहा कि संगठित होकर टीम भावना से कार्य करने से हर समस्या का समाधान ढूंढ लेते हैं। हम सभी को जो सम्मान मिला है वह भाजपा की देन है। सहयोग से कार्य करने से परिणाम सुखद होता है। भाजपा कार्यकर्ता त्याग व तपस्या की प्रतिमूर्ति है। बूथ की लड़ाई ही अन्तिम लड़ाई होती है और उसे लड़ने के लिए बूथ की मजबूत संरचना के लिए लग जाना है।

उन्होंने कहा कि सदर विधानसभा के सभी मठों मंदिरो का दर्शन और हमारे पुराने कार्यकर्ताओं का उनके घर जाकर आशिर्वाद प्राप्त करना ही आशिर्वाद यात्रा है। विधानसभा चुनाव में यही आशिर्वाद हमें विजय दिलाएगी। आशिर्वाद यात्रा के बाद ही मंडलों की बैठक, सेक्टरों की बैठक और मेरा प्रयास होगा की बूथों पर भी बैठक करुंगा। निश्चित रूप से भाजपा विकल्प बन कर निकलेगी। आजमगढ़ सदर विधानसभा भी आप के अनुकूल हो चुकी है।

इस अवसर पर जिलाध्यक्ष ध्रुव कुमार सिंह, अखिलेश मिश्रा गुड्डू, धनश्याम सिंह पटेल, जयनाथ सिंह, शिवनाथ सिंह, प्रेम नारायण पाण्डेय, सचिदानंद सिंह, दुर्ग विजय यादव, ब्रजेश यादव, नन्हकूराम सरोज, पवन सिंह मुन्ना, हरिवंश मिश्रा, अजय सिंह, पंकज सिंह कौशिक, जूही श्रीवास्तव, आनन्द सिंह,पूनम सिंह, विनय प्रकाश गुप्त, विवेक निषाद, धर्मेंद्र सिंह, बबिता जसरासरिया, अभिनव श्रीवास्तव, धनन्नजय राय, आशुतोष पाठक, मृगांक शेखर सिन्हा, दीपक चतुर्वेदी, सुरेन्द्र सिंह, शैलेन्द्र अग्रवाल, धर्मवीर चैहान, पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

BY Ran vijay singh