सरकारी नौकरी की कर लें तैयारी, 50 हजार से ज्यादा पदों पर निकल रहीं भर्तियां, ये है पूरा ब्योरा

लखनऊ. अगर आप भी सरकारी नौकरी (Sarkari Naukri) (Government Jobs) करना चाहते हैं, तो आपको लिए बड़ी खुशखबरी है। उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) (यूपीएसएसएससी) नये साल 2021 (New Year 2020) में 50 हजार से ज्यादा ज्यादा पदों पर भर्तियां की तैयारियों में जुट गया है। आयोग के पास 40 हजार पद अभी खाली हैं। जिन पर भर्ती संबंधी प्रस्ताव पहुंच गए हैं। कुछ और विभागों से 10,000 से ज्यादा संशोधित प्रस्ताव मंगवाए गए हैं। अधिनस्थ सेवा चयन आयोग नए साल में सबसे पहले प्रारंभिक अर्हता परीक्षा करवाएगा और फिर भर्तियों के संबंध में विज्ञापन निकालकर आवेदन लेगा। प्रारंभिक परीक्षा अप्रैल 2021 में कराने की तैयारी की जा रही है, जबकि मुख्य परीक्षा मई तक कराकर भर्ती हुए अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र बांटे जाएंगे।

आयोग ने की ये तैयारी

अधिनस्थ सेवा चयन आयोग इस भर्ती प्रक्रिया को जल्द पूरी करने के लिए योग्यता के आधार पर आवेदन लेगा। उदाहरण के तौर पर इंटरमीडिएट. स्नातक. प्रोफेशनल कोर्स या फिर तकनीकी योग्यता वाले पदों के लिए ग्रुपवार आवेदन पर विचार-विमर्श किया जा रहा है। इसके लिए आयोग में आए हुए भर्ती प्रस्तावों को पद और योग्यता के आधार पर अलग अलग करने का काम शुरू करा दिया गया है। इससे आवेदन करने वाले अपने ग्रुप के आधार पर आवेदन कर सकेंगे और आयोग को भी भर्ती परीक्षा कराने में आसानी होगी।

आयोग की फूलप्रूफ तैयारी

आयोग प्रारंभिक अर्हता परीक्षा पाठ्यक्रम ऑनलाइन जारी करेगा। इसके लिए तीन सदस्यों की कमेटी बना दी गई है। कमेटी पाठ्यक्रम का प्रारूप तैयार करके आयोग के अध्यक्ष को देगी। आयोग सदस्यों की बैठक में सहमति के बाद से ऑनलाइन किया जाएगा। जिससे शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को सुविधा मिलेगी। आयोग भर्ती परीक्षाओं को फूलप्रूफ बनाने के लिए फरवरी में एक सेमिनार भी आयोजित कराने जा रहा है। इसमें एसआईटी, एसटीएफ के साथ ऑनलाइन या ऑफलाइन परीक्षा कराने वालों के साथ विशेषज्ञों को आमंत्रित किया जाएगा। उनके सुझावों के आधार पर भर्ती परीक्षा का प्रारूप तय किया जाएगा। जिससे धांधली रुके और तय समय पर भर्तियां पूरी हो सकें।

विभागों के मिले प्रस्ताव

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के अध्यक्ष प्रवीण कुमार ने बताया कि आयोग को भर्ती संबंधी अधिकतर विभागों के प्रस्ताव मिल गए हैं। शैक्षिक योग्यता के आधार पर इसे ग्रुप में बांटा जा रहा है। प्रारंभिक अर्हता परीक्षा कराने के बाद भर्ती प्रक्रिया शुरू कराई जाएगी।

यह भी पढ़ें: BEd Counselling: बीएड कॉलेजों में अभी भी नहीं मिला एडमिशन, तो न हों निराश, 1.40 लाख सीटों पर अब होगा सीधा दाखिला

इन पदों पर होगी भर्तियां

परिवार कल्याण- 9222
लेखपाल- 7882
विभिन्न विभागों में लिपिक- 7000
बाल विकास पुष्टाहार- 3448
ग्राम्य विकास- 1658
लेखा परीक्षक- 1303
बेसिक शिक्षा- 1055
माध्यमिक शिक्षा- 500
नगर निकाय- 383