जिला युवा संसद कार्यक्रम में युवाओं ने रखे अपने विचार

बाराबंकी. नेहरू युवा केंद्र लखनऊ, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार के तत्वावधान में सोमवार को जिला स्तरीय युवा संसद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में लखनऊ की जिला युवा अधिकारी पुष्पा सिंह ने बताया कि यह कार्यक्रम 18 से 25 वर्ष के युवाओं के लिए आयोजित किया गया है। इसका उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं में छिपी प्रतिभा को एक प्लेटफार्म देना था, इस युवा संसद में जनपद लखनऊ, बाराबंकी, उन्नाव, हरदोई तथा सीतापुर के प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया।

कार्यक्रम के दौरान युवाओं ने दिये गये विषयों जैसे - राष्ट्रीय शिक्षा नीति- 2020 भारत में शिक्षा को बदल देगी, उन्नत भारत अभियान- समुदायों की शक्ति को उजागर करना तथा उनके उत्थान के लिए प्रौद्योगिकियों का उपयोग करना, शून्य बजट - प्राकृतिक खेती किसानों के लिए एक वरदान है, अनलॉकिंग रोल इकोनामी इन द फेस ऑफ न्यू नॉरमल पर वेबीनार के माध्यम से विचार प्रस्तुत किए। निर्णायक मंडल में डॉ.एस.पी.सिंह, रंजना द्विवेदी, डॉ. नीतू सिंह, डॉ. शुचि मिश्रा, लायक राम मानव, सौरभ कुमार खरे रहे, जिन्होंने वर्चुअल माध्यम से प्रस्तुतिकरण को देखकर निर्णय लिया। कार्यक्रम का संचालन नवीन मिश्रा,अवधेश कुमार साहू ने किया। बहराइच की जिला युवा अधिकारी अनन्या सिंह, बाराबंकी से प्रियंका चौहान, हरदोई से प्रतिमा वर्मा, उन्नाव से विनीत गहलोत व सीतापुर से रोशनी पटवा उपस्थित रहे।

लखनऊ में नैंसी रहीं अव्वल

प्रतियोगिता में लखनऊ में पहले स्थान पर नैंसी सिंह और दूसरे स्थान पर रवि रावत रहे। इसी प्रकार उन्नाव में प्रथम राधा यादव और आकांक्षा शुक्ला द्वितीय स्थान पर रहीं, हरदोई में पहला स्थान अनुभव मिश्रा और दूसरा स्थान शिव ओम सिंह को मिला, बाराबंकी में पहला स्थान सीताकांत मिश्रा और दूसरा स्थान सिद्दीका को मिला, सीतापुर में पहले स्थान पर दिलीप विश्वकर्मा और दूसरे स्थान पर श्रीश वाजपेयी रहे।

इस मौके पर पुष्पा सिंह ने यह भी बताया कि प्रत्येक जनपद से दो विजेता चुने जाएंगे जो आगामी 1 जनवरी से 5 जनवरी के बीच राज्य स्तरीय युवा संसद में प्रतिभाग करेंगे, राज्य स्तरीय विजेता प्रतिभागियों को 12 जनवरी से राष्ट्रीय स्तर पर दिल्ली के संसद भवन में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय युवा संसद में प्रतिभाग करेंगे। राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम आने वाले प्रतिभागी को दो लाख रूपये, द्वितीय को डेढ़ लाख तथा तृतीय विजेता को एक लाख रूपये का पुरस्कार तथा प्रमाण पत्र दिया जाएगा। कार्यक्रम में राष्ट्रीय युवा स्वयं सेवक मनीष कुमार, शाश्वत शुक्ला ,अखिलेश, रोहित, राधिका, श्रीदेवी, पारख का महत्वपूर्ण सहयोग रहा। मुख्य लेखाकार उदय भान सिंह ने अपना विशेष सहयोग देकर कार्यक्रम को सफल बनाया।