यूपी के मुजफ्फरनगर में खूनी संघर्ष बीडीओ की गाेली मारकर हत्या, एसओ लाइन हाजिर

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुजफ्फरनगर ( Muzaffarnagar ) पश्चिमी उत्तर प्रदेश में प्रधानी के चुनाव की शुगबुगाहत के शुरू होते ही खूनी संघर्ष शुरू हो गये हैं। रविवार को मुजफ्फरनगर में दो पक्षों के बीच हुए खूनी संघर्ष में प्रधान पक्ष के लोगों ने पुलिस के सामने ही ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर बीडीओ को मौत के घाट उतार दिया। ( Muzaffarnagar murder ) इस हमले में दाे अन्य लाेग घायल हैं।

यह भी पढ़ें: किसान आंदोलन : दिल्ली जाने के लिए चुने ये रास्तें, नहीं फंसेंगे जाम में

( murder in muzaffarnagar ) इस घटना में गाेली लगने से अर्जुन पुत्र देवेंद्र की माैत हुई जाे ग्राम पंचायत अधिकारी हैं। वह छुट्टी पर घर आए हुए थे। मौके पर पहुंचे एसएसपी अभिषेक यादव ने मृतक के परिजनाे काे भराेसा दिलाया है कि हत्यारोपियाें की जल्द से जल्द गिरफ्तारी कर उन्हे सजा दिलाई जाएगी। इस हत्याकांड में एसएसपी ने एसओ तितावी कपिलदेव और एक दरोगा को लाईन हाजिर कर दिया है।

यह भी पढ़ें: बुलंदशहर में दिल्ली के व्यापारी से वर्दी पहने बदमाशों ने 18 लाख रुपए और कार लूटी

घटना थाना तितावी क्षेत्र के गांव खेड़ी दूधाधारी की है। रविवार को गांव में नाली के विवाद में प्रधान विनोद की गांव के ही दूसरे पक्ष के साथ कहा सुनी और मारपीट हो गयी। मामले की जानकारी पर मौके पर पुलिस पहुंच गई आरोप है पुलिस के पहुंचने के बाद प्रधान पक्ष और उसके साथियों ने पुलिस के सामने ही दूसरे पक्ष पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी जिसमे एक युवक अर्जुन पुत्र देवेंद्र की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि उसका भाई भी गोली लगने से घायल हो गया।

यह भी पढ़ें: एक जनवरी से पहले करा लें अपना वाहन का बीमा, फास्ट टैग की वजह से बदलने जा रहा नियम

अर्जुन ग्राम पंचायत अधिकारी के पद पर सदर ब्लॉक में तैनात था । रविवार की छुट्टी हाेने की वजह से वह अपने गांव छुट्टी आया था। बताया गया है कि अर्जुन परिवार के साथ घर में बैठा हुआ था तभी ग्राम प्रधान विनोद और ग्राम पंचायत सदस्य ने हथियारों से लैस होकर हमला बोल दिया। झगड़े की सूचना पर तितावी पुलिस भी मौके पर पहुंच गई लेकिन दबंग प्रधान और उसके साथियों ने पुलिस की मौजूदगी में ग्राम पंचायत अधिकारी अर्जुन की गोलियों से भून कर हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: New Year पार्टी के लिए लेनी हाेगी होगी अनुमति, जानिए नियम

घटना को अंजाम देकर हत्यारे मौके से फरार हो गए। पीड़ित पक्ष का आरोप है कि ग्राम प्रधान विनोद दबंग किस्म का व्यक्ति है और एक बलात्कार के मामले में जेल भी काट चुका है। इस घटना के बाद जिला हॉस्पिटल पहुंचे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव ने जल्दी ही आरोपियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया। एसएसपी ( muzaffarnagar ssp ) ने थाना प्रभारी कपिलदेव और चौकी प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया है।