सेना के जवानों को हनीट्रैप फंसाने वाले कॉलगर्ल गैंग का खुलासा, कई राज्यों के फौजियों को बनाया शिकार

मेरठ. भारतीय सैनिकों को हनीट्रैप (Honeytrap) में फंसाने वाले कॉलगर्ल गिरोह का मेरठ (Meerut) पुलिस ने पर्दाफाश किया है। इस मामले में पुलिस ने कॉलगर्ल (Callgirl) समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि तीन अन्य आरोपियों की तलाश में पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

यह भी पढ़ें- हाथरस केसः सीबीआई ने पाया पीड़िता व आरोपी जानते थे एक दूसरे को, 105 बार हुई थी कॉल

दरअसल, मेरठ के नौचंदी थाना पुलिस और साइबर सेल को शिकायत मिली थी कि एक युवती सेना के जवानों को हनीट्रैप में फंसाकर ब्लैकमेल करती है। युवती ने अपना एक गैंग बनाया हुआ है। वह सेना के कई जवानों को हनीट्रैप में फंसाकर ब्लैकमेल कर चुकी है। युवती ने मुजफ्फरनगर के एक जवान के परिवार से सोने के जेवर ठगे हैं। शिकायत के आधार पर पुलिस ने जाल बिछाते हुए इस गैंग का पर्दाफाश कर दिया है। पुलिस ने युवती समेत तीन लोगोंं को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस पूछताछ के दौरान युवती ने एक दर्जन से अधिक वारदात को अंजाम देने की बात कबूल ली है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, यह गैंग यूपी, हरियाणा, राजस्थान और गुजरात के फौजियों को अपना निशाना बनाता है। युवती ने हाल ही में हरियाणा के एक फौजी को मेरठ बुलाया था। आरोप है कि युवती फौजी को एक होटल में ले गई और उसकी अश्लील वीडियो बना ली। इसके बाद वह फौजी को बेहाेश कर उसका सामान लेकर फरार हो गई। शिकायत के बाद पुलिस होटल के सीसीटीवी कैमरे चेक किए तो युवती और उसका एक साथी का चेहरा सामने आया। इसके बाद से नौचंदी थाना पुलिस उनकी तलाश में लगी थी।

बताया जा रहा है कि युवती ही गैंग की सरगना है। वह पहले फौजियों से दोस्ती करती है और फिर उनका अश्लील वीडियो बनाने के बाद ब्लैकमेल करती है। आरोपियों से बरामद किए गए मोबाइल में कई सेना के जवानों के साथ अन्य लोगों की अश्लील वीडियो क्लिप मिली हैं। युवती के पास से 12 फर्जी आईडी भी बरामद की गई हैं। अब पुलिस उन फौजियों का पता लगा रही है, जिनको युवती ने हनीट्रैप में फंसाया है।

यह भी पढ़ें- क्रूरता: दहेज नहीं मिलने पर पत्नी को कई दिन भूखा रखा, कुत्ते से भी कटवाया