जन्मभूमि से मोक्ष स्थान तक संवर रही है अयोध्या : संत

अयोध्या : अयोध्या में भगवान श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हो चुका है दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा राम नगरी अयोध्या को त्रेता युग की तरह सजाने का सवारने के साथ सोलर सिटी बनाए जाने की योजना बनाई हैै जिसका संतो ने स्वागत किया है संतों के मुताबिक प्राचीन अयोध्या को सजाने और संवारने के साथ अयोध्या को सोलर सिटी के तहत तैयार करने की योजना से नया आयाम मिलेगा।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या के विकास को लेकर समीक्षा बैठक में अयोध्या को धर्म-संस्कृति की परंपरा और आधुनिकता के तहत त्रेतायुगीन वैभव के अनुरूप संवरने के साथ अयोध्या को सोलर सिटी के रूप में नई पहचान दिलाने के लिए योजना तैयार करने के लिए अधिकारियोंं को निर्देशित किया है। वही अयोध्या ही नहींं बल्कि 84 कोसीी परिक्रमा के अंतर्गत आने वाली सभी धार्मिक स्थलों जीर्णोद्धार व मखौड़ा धाम दिवंगत परमहंस समाधि स्थल के साथ अयोध्या के श्मशान घाट को मुक्तिति धाम के तहत विकसित करने का निर्देश दिया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या विकास संबंधित योजना को लेकर संतों ने स्वागत किया है। राम जन्म भूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने बताया कि प्रदेश सरकार अयोध्या को त्रेता युग की तर्ज पर तैयार कर रही है और यह सब अयोध्या में भगवान श्री राम के भव्य मंदिर निर्माण का कार्य प्रारंभ होने के बाद मिल रहा है मंदिर निर्माण से पहले अयोध्या किस रूप को बदलने का कार्य प्रदेश सरकार कर रही है अयोध्या में सोलर लगाए जाने से कभी भी अंधेरा नहीं दिखाई देगा मठ मंदिर घाट के साथ-साथ श्मशान घाट को भी बनाने की तैयारी है जिसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार का स्वागत करते हैं।

वही महंत कन्हैया दास के मुताबिक भव्य मंदिर निर्माण के साथ अयोध्या का भव्य स्वरूप तैयार किया जा रहा है मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या को सजाने और संवारने का कार्य कर रहे हैं कुछ सालों के बाद आने वाले पर्यटक त्रेता युग की तरह अयोध्या को देख सकेंगे जिसके लिए यह पूरी कार्ययोजना सरकार तैयार कर रही है। वही बताया कि जन्म स्थान से लेकर मोक्ष स्थान तक सभी स्थलों को विकसित करने का कार्य योगी सरकार ने शुरू किया है।