सीएम योगी ने जाना रैन बसेरों का हाल, अधिकारियों से कहा कड़ाके की ठंड में कोई न सोए खुले आसमान के नीचे

लखनऊ. सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Adityanath) वाराणसी (Varanasi) पहुंचे। यहां उन्होंने काशी विश्वनाथ (Kashi Vishwanath) में दर्शन किया। काशी विश्वनाथ धाम कारिडोर के कार्यों की प्रगति का भी मुख्यमंत्री ने जायजा लिया। इसके अलावा सीएम ने रैन बसेरे का औचक निरीक्षण किया और यहां रह रहे लोगों का हालचाल लिया। मुख्यमंत्री ने कई अन्य जगहों पर रुक कर रैन बसेरों का हाल जाना। अधिकारियों से समय पर सारी व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। पंचायत चुनाव से पहले तैयारियों की समीक्षा के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ साढ़े पांच घंटे के प्रवास पर वाराणसी पहुंचे थे। इससे पहले उन्होंने मऊ में जनसभा को संबोधित किया।

रैन बसेरे में मिल रही सुविधाओं के बारे में जाना

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सर्द रात में वाराणसी के टाउन हॉल स्थित रैन बसेरे का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने टाउन हॉल में बनाये गए रैनबसेरा में रह रहे लोगों को कंबल वितरण किया व रैन बसेरा रहे लोगों से व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली। वहां रुके आश्रितों ने मिल रही सुविधाओं से खुद को संतुष्ट बताया। उन्होंने कहा कि पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने उनके बीच आकर उनका हाल जाना।

कड़ाके की ठंड में न सोए कोई खुले आसमान के नीचे

मिख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया की कड़ाके की ठंड में खुले आसमान के नीचे कोई न सोए। सभी के लिए व्यवस्था होनी चाहिए।मुख्यमंत्री ने टाउन हॉल में 2331.00 लाख रुपए लागत से स्मार्ट सिटी योजना अंतर्गत बन रहे पार्क एवं भूमि गत पार्किंग का भी औचक निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री भूमि गत पार्किंग कार्य को सितंबर, 2021 तक पूरा कराए जाने का निर्देश दिया। इसके बाद रात 8.16 बजे वाराणसी एयरपोर्ट से राजकीय विमान द्वारा मुख्‍यमंत्री लखनऊ प्रस्थान कर गए।

ये भी पढ़ें: ठंड के कहर से ठिठुर रहा यूपी, कोहरे और धुंध की वजह से बढ़ रहे सांस के रोगी, कोरोना का खौफ भी बना रहा मनोरोगी

ये भी पढ़ें: कमरे में अंगीठी जलाकर सो रही थीं तीन बहनें, मौत