यूपी पुलिस के दरोगा का कारनामा - युवक युवती का वीडियो बना कराया वायरल

कानपुर. यूपी पुलिस का शर्मनाक कारनामा उस समय सामने आया। जब जिम में बाहर से ताला खुलवाते हुए पुलिस सोची समझी रणनीति के तहत अंदर घुसती है और पूरे मामले का वीडियो बनाकर वायरल करवा दिया। पुलिस की इस कार्रवाई कि चारों तरफ निंदा हो रही है। इस संबंध में क्षेत्राधिकारी ने कहा कि पूरे प्रकरण की जांच होगी और दोषी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बजरिया थाना क्षेत्र का मामला

मामला जनपद के बजरिया थाना क्षेत्र का है। उक्त थाना में तैनात में दरोगा मोहम्मद खालिद मुखबिर की सूचना पर जिम पहुंचते हैं। जिसमें बाहर से ताला बंद था। मोहम्मद खालिद ताला खुलवाने के बाद हीरो की स्टाइल में अंदर घुसते हैं और पूरे कमरे की लाइट जलवाते। लेकिन उनकी निगाहें मुखबिर द्वारा बताए गए जानकारी के अनुसार लड़की को खोज रही थी। जो शर्म से या डर से एक कोने में जाकर छिप कर बैठ गई थी।

बेशर्मी की सीमा तोड़ता यूपी पुलिस का दरोगा

इस संबंध में बातचीत करने पर Y- ब्लाक निवासी राजेंद्र सिंह ने बताया कि बेशर्मी की सारी हदें पार करते हुए मोहम्मद खालिद ने बार-बार लड़की के चेहरे को हाइलाइट किया। किसी बालिग या नाबालिक लड़की का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल कराना कानून का उल्लंघन है। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद मोहम्मद खालिद के इस कारनामे की निंदा हो रही है। लोगों का कहना है कि जानबूझकर घटना की पटकथा लिखी गई है। जिसमें दरोगा के साथ मुखबिर की भी अहम भूमिका है।

बाहर से ताला बंद

जिम के गेट का ताला बाहर से बंद था। जिसे दरोगा के सामने खोला गया। यह घटनाक्रम काफी कुछ शंकाएं पैदा करता है। क्या लड़की या लड़के को बदनाम करने की साजिश रची गई या क्षेत्र में जो जिम चल रहा है। उसके खिलाफ साजिश रची गई। अब देखना यह है कि इस घृणित कृत के लिए शासन और पुलिस प्रशासन दोषी दरोगा के खिलाफ क्या कार्रवाई करता है या जांच के नाम पर पूरे प्रकरण को दफना दिया जाएगा। इस संबंध में बातचीत करने पर क्षेत्राधिकारी सीसामऊ ने बताया कि उन्होंने अपनी रिपोर्ट एसएसपी को दे दी है। आगे की कार्रवाई एसएसपी के माध्यम से होगी।