किसान आंदोलन: भाकियू नेता राकेश टिकैत को जान से मारने की धमकी

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
गाजियाबाद. दिल्ली से सटे गाजियाबाद (Ghaziabad) के यूपी गेट पर एक महीने से भी ज्यादा समय से कृषि कानून (Farm Law) को वापस लेने की मांग को लेकर किसान धरने (Farmer Protest) पर बैठे हैं। शनिवार को अचानक ही किसानों के खेमे में उस वक्त खलबली मच गई, जब वहां धरने पर बैठे किसानों को यह पता चला कि भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) को अज्ञात व्यक्ति ने फोन पर जान से मारने की धमकी दी है। यह खबर मिलते ही सभी किसान सकते में आ गए और आनन-फानन में भाकियू (BKU) के सहायक राष्ट्रीय प्रवक्ता अर्जुन बालियान ने कौशांबी थाने में एक तहरीर दी। जिसके आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें- खाप पंचायतों का ऐलान: 28 दिसंबर को पूरे दल-बल के साथ सिंधु बॉर्डर के लिए कूच करेंगे खाप चौधरी

भाकियू नेता राकेश टिकैत ने बताया कि शनिवार को उनके पास एक फोन आया। फोन करने वाले ने अपने आपको बिहार का रहने वाला बताया। उसने कहा कि आप धरने पर बैठे हैं तो कितने हथियार भेजे जाने हैं। इसके जवाब में राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि किसान धरने पर बैठे हैं किसी से कोई जंग नहीं लड़ रहे हैं तो फिर हथियार भेजने की बात किसलिए कर रहे हैं। फोन करने वाले व्यक्ति ने कहा कि तुम्हें जान से मारने का प्लान है और तुम्हें जिंदा नहीं छोड़ा जाएगा। राकेश टिकैत ने बताया कि इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई है। थाना कौशांबी में तहरीर देकर मामला दर्ज किया गया है।

वहीं, इस मामले में क्षेत्राधिकारी अंशु जैन ने बताया कि भारतीय किसान यूनियन के सहायक राष्ट्रीय प्रवक्ता अर्जुन बालियान ने एक तहरीर थाना कौशांबी में दी है। धमकी देने वाले के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि तहरीर के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर सर्विलांस की टीम गठित कर दी है और पूरे मामले की गहनता से जांच करते हुए आरोपी की तलाश शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें- गोरखपुर युनिवर्सिटी हाॅस्टल प्रकरणः छात्रों ने अर्धनग्न कुलपति आवास पर किया प्रदर्शन