इस वजह से होटल व रेस्टोरेंट संचालकों को नए वर्ष में लग सकता बड़ा झटका, जानिए पूरी खबर

कानपुर-प्रत्येक साल नए वर्ष के आगमन पर लोग जमकर खुशियां मनाते हैं। तरह तरह से लोग नए वर्ष का स्वागत करते हैं। होटल, रेस्टोरेंट को बुक करके खासतौर पर यूथ जमकर एन्जॉय करते हैं। इस दौरान कानपुर में होटल, गेस्ट हाउस, स्वीट्स हाउस व रेस्टोरेंट में 31 दिसंबर को करीब 40 करोड़ का व्यापार होता है, लेकिन इस बार कोरोना इन व्यापारियों के लिए बड़ा संकट लेकर आया है। क्योंकि अभी तक सरकार की कोई राहत भरी गाइडलाइन ने आने से कोई बुकिंग नहीं हुई है। यहां तक कि क्रिसमस -डे पर भी कोई बुकिंग नहीं हो सकी।

इस तरह होटल व रेस्टोरेंट मालिकों को तगड़ा झटका लगने वाला है। इससे संचालकों में निराशा छाई हुई है। कानपुर के होटल, गेस्ट हाउस, स्वीट्स एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुखबीर सिंह मलिक ने बताया कि क्रिसमस वाले दिन भी तमाम लोग पार्टियों के लिए बुकिंग कराते थे। इसके अलावा 31 दिसंबर की रात में शहर में बहुत बड़े स्तर पर पार्टियां होती थीं। इस बार पूरी तरह सन्नाटा है।

एसोसिएशन के महामंत्री राज कुमार भगतानी ने बताया कि एक दिन में करीब 40 करोड़ का कारोबार होता था। इस बार कोरोना के चलते बुकिंग नहीं हैं। इस अवसर पर केक का भी बहुत बड़े स्तर पर कारोबार मिलता था। इस बार केक की भी मांग कम हुई है। हालांकि बेकरी और रेस्टारेंट संचालकों ने तैयारी पूरी की है। क्रिसमस से ही केक के आर्डर मिलने लगते थे, लेकिन इस बार हालात बदले हुए हैं। फिलहाल अभी 31 दिसंबर को 4 दिन शेष हैं। संचालकों को सरकार की तरफ से गाइडलाइन आने की उम्मीद शेष है।