नाबालिग किशोरी का अपहरण कर दुष्कर्म, सामने आई पुलिस की लापरवाही, तो मचा हड़कंप

सीतापुर. नाबालिग किशोरी का अपहरण कर दुष्कर्म करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले में महज छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कर इतिश्री कर ली थी लेकिन मामला मीडिया के संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने मामले में पीड़िता के बयानों के आधार पर धाराओं में तब्दीली करते हुए दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में बदलाव करते हुए आरोपी युवक को भी गिरफ्तार कर लिया हैं। इस पूरे प्रकरण में पुलिस की बड़ी लापरवाही उजागर हुयी है।

 

नाबालिग से दुष्कर्म

मामला रामपुरकलां थाना क्षेत्र का है। यहां बीती 23 दिसंबर की देर शाम एक नाबालिग किशोरी घर से शौच के लिए गयी थी। पीड़िता का आरोप है कि उसी दौरान वहां मौजूद गांव के ही एक व्यक्ति ने उसे दबोच लिया और उसे साथी की मदद से अपहरण कर अपनी झोपड़ी में उठा ले गया। पीड़िता का आरोप है कि दबंग युवक ने झोपड़ी में उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया और मुहं खोलने पर जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से फरार हो गया।

 

पुलिस ने अब की धाराओं में तब्दीली

पीड़िता ने परिजनों के साथ न्याय के लिए कानून का दरवाजा खटखटाया, लेकिन नारी शक्ति और नारी सम्मान का जाप करने वाली सीतापुर पुलिस ने रेप पीड़िता की तहरीर पर महज छेड़छाड़ की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले को रफा दफा कर दिया। सीतापुर पुलिस की कार्यशैली से हताश पीडिता ने मीडिया का सहारा लिया तो पुलिस के हाथ पांव फूल गए और धाराओं में तब्दीली की बात पुलिस मीडिया के सामने कहने लगी। पुलिस का कहना है कि पीड़िता के बयानों के आधार पर मुकदमे में दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं की बढ़ोत्तरी की जा रही है और आरोपी को भी अब गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई शुरू कर दी गयी है।