दिनदहाड़े बीच सड़क पर दिखा खौफनाक मंजर, लोहे की रॉड से युवक को पीट-पीटकर मार डाला

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद। जनपद के लोनी इलाके में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें कुछ दबंगों ने एक युवक के सिर पर दिनदहाड़े बीच सड़क पर ही लोहे की रॉड और सरिया से वार करते हुए पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। यह घटना के वक्त लोग तमाशबीन बने रहे और युवक को बचाने के बजाय वीडियो बनाते रहे। उधर, मामले की सूचना आनन-फानन में स्थानीय पुलिस को दी गई। सूचना के आधार पर मौके पर पहुंची पुलिस ने लहूलुहान हालत में सड़क पर पड़े युवक को घायल अवस्था में अस्पताल पहुंचाया। इस दिल दहलाने वाली घटना के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए उनकी तलाश शुरू कर दी है। वहीं एसएसपी ने कार्रवाई करते हुए मामले में दो दरोगा समेत तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। साथ ही चौकी इंचार्ज को भी लाइन हाजिर कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: मेरठ का लाल आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में शहीद

दरअसल, दिल दहलाने वाली यह घटना लोनी थाना इलाके की है। जहां डीएलएफ अंकुर विहार रोड पर एक युवक पर दो व्यक्तियों ने रॉड से हमला कर दिया। बताया जा रहा है कि ऑटो में आ रहे व्यक्ति के पीछे से दो बाइक सवार अज्ञात व्यक्ति आये और उसे ऑटो से बाहर निकालकर हमला कर दिया। जिसके बाद युवक लहूलुहान हालत में सड़क पर गिर गया। उसके बाद भी हमलावरों को संतोष नहीं हुआ और वह लगातार उस पर वार करते रहे। हमलावर युवक को लहूलुहान हालत में रोड पर ही छोड़कर आरोपी मौके से फरार हो गए । सूचना मिलते ही पहुंची पुलिस ने घायल युवक को तुरंत अस्पताल में उपचार के लिए भेजा, जहाँ उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई। इस मामले को लेकर पुलिस जांच में जुटी है।

यह भी देखें: नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर थाली और ताली पीटकर किसानों ने जताया विरोध

वहीं इस मामले में क्षेत्राधिकारी अतुल कुमार सोनकर का कहना है कि गोविंद नाम के व्यक्ति ने अपने साथी के साथ मिलकर अजय पर हमला किया था। जिससे उसकी उपचार के दौरान मौत हो गई । इस पूरे मामले की गहनता से जांच की जा रही है और जल्द ही हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि फूल की दुकान लगाने को लेकर दो पक्षों में झगड़ा चल रहा था। जिसके चलते एक पक्ष में इस युवक पर हमला किया और उसकी मौत हो गई। इस मामले में दो दरोगा समेत तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड किए गए हैं। चौकी इंचार्ज को भी लाइन हाजिर कर दिया गया है।