दंभी भाजपा को सड़क पर ले आएंगे किसान : अखिलेश यादव

लखनऊ. नए कृषि बिलों के खिलाफ किसानों के आंदोलन का मंगलवार को 34वां दिन है। केंद्र सरकार और किसानों के बीच रस्साकशी चल रही है। कई वार्ता के बाद भी हाल जस का तस है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर हमला करते हुए कहाकि, भाजपा लगातार किसानों का तिरस्कार कर रही है। किसान दंभी भाजपा को सड़क पर ले आएंगे।

UP New Year 2021 celebration Guidelines: यूपी में नए वर्ष के जश्न पर सख्ती गाइडलाइन जारी

समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव ने मंगलवार को अपने ट्विट के जरिए किसानों के हाल पर चिंता जताते हुए लिखा कि, भाजपा सरकार ने किसानों द्वारा बातचीत के लिए प्रस्तावित दिन की जगह बातचीत की तारीख़ को आगे बढ़ाकर ये साबित कर दिया है कि कड़कड़ाती ठंड में अपना जीवन न्यौछावर कर रहे किसान उनकी प्राथमिकता नहीं हैं। भाजपा लगातार किसानों का तिरस्कार कर रही है। किसान दंभी भाजपा को सड़क पर ले आएंगे।

गांव में डर पैदा करने के लिए भेजी है पुलिस:- अखिलेश यादव ने कहा कि योगी सरकार गांव गांव पुलिस भेज रही है, बहाना है धान खरीद की रिपोर्ट बनाना, जबकि धान की लूट हो चुकी है। पर सच्चाई है गांव में डर पैदा करना है ताकि यूपी के किसानों को आंदोलन से डराकर अलग रखा जा सके। किसान नेताओं के साथ समाजवादी पार्टी के नेताओं को भी घरों में नजरबंद किया जा रहा है।

एआईएमआईएम के प्रदेश अध्यक्ष हाजी शौकत अली सहित 80 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज

30 दिसंबर को किसान और सरकार की बैठक :- कृषि बिलों के खिलाफ किसानों को केंद्र सरकार ने 30 दिसंबर दोपहर 2 बजे विज्ञान भवन में को वार्ता के लिए बुलाया है। किसान संगठनों ने भी केंद्र के प्रपोजल को स्वीकार कर लिया है। उन्होंने कहा कि केंद्र को मीटिंग से पहले बातचीत का एजेंडा स्पष्ट करना चाहिए।