योगी सरकार के अफसर विलेज में बिता रहे दो रात और तीन दिन, ये है पूरी प्लानिंग

लखनऊ. नए साल 2021 (New Year 2021) की शुरुआत पर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने सीनियर आईएएस अफसरों को एक टूर पैकेज दिया है। इस टूर पैकेज के तहत आईएएस अफसरों को दो रात और तीन दिन गांव में बिताने होंगे। इस दौरान वे गांव के किसानों की समस्याओं को न सिर्फ सुनेंगे, बल्कि मौके पर ही उनका ज्यादा से ज्यादा समाधान भी निकालेंगे। वहीं उत्‍तर प्रदेश के 75 जिलों में 75 सीनियर आईएएस अफसरों ने तीन दिनों के लिए डेरा डाल भी दिया है।

 

अधिकारी लेंगे हालात का जायजा

योगी सरकार ने प्रदेश के सभी 75 अफसरों को जिले में तीन दिन रविवार, सोमवार और मंगलवार को रहकर वहां के हालात का जायजा लेने का आदेश दिया है। इस दौरे के दो दिन रविवार और सोमवार बीत चुके हैं। सभी अफसर रात में अपने आवंटित जिलों में ही रूके भी हुए हैं और आज ये सभी अफसर टूर पैकेज के आखिरी दिन मुआयना करने के बाद ही लखनऊ वापस लौटेंगे। इस दौरे में अफसरों को दो रात और तीन दिन अपने आवंटित जिले में बिताकर वहां के लोगों की समस्याओं को जानना था।

 

इन कामों की कर रहे समीक्षा

दरअसल इस प्लानिंग के पीछे योगी सरकार का मकसद ग्रामीण स्तर पर सरकार की कल्याणकारी योजनाओं की स्थिति को समझना है। इसीलिए हर जिले में 75 वरिष्ठ अधिकारियों को लगाया गया है। ये सभी अफसर मुख्य रूप से जिन कार्यों की समीक्षा कर रहे हैं, उनमें जिले की गौशालाओं का हाल देखना, धान, मूंगफली और गन्ना क्रय केन्द्रों की स्थिति जानना, कोरोना वैक्सीन से पहले की तैयारी देखना, विरासत की जमीनों के विवाद की सुनवाई और जिले के अफसरों से योजनाओं की प्रगति रिपोर्ट लेना शामिल है।

 

यह भी पढ़ें: यूपी में बढ़ेंगी बिजली की दरें, बड़ा झटका देने की तैयारी में पावर कारपोरेशन, कर रहा ये प्लानिंग