बर्फीली हवाओं से शून्य के करीब पहुंचा राजधानी का पारा, साल के पहले ही दिन दर्ज हुआ 0.5 डिग्री सेल्सियस तापमान

लखनऊ. नए वर्ष के स्वागत ने राजधानी लखनऊ में ठंड के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए। शुक्रवार को बर्फीली हवाओं की वजह से लखनऊ व मथुरा का न्यूनतम पारा शून्य के करीब जा पहुंचा। दोनों की जगह का न्यूनतम पारा 0.5 डिग्री सेल्सियस तक जा पहुंचा। इस लिहाज से शुक्रवार को लखनऊ प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान बना रहा। इससे पहले 31 दिसंबर की रात लखनऊ से सटे जिले कानपुर में ठंड ने 23 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया। शुक्रवार की रात यहां का तापमान 2.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो कि जिले में अब तक का सबसे कम तापमान रहा है। मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक पाकिस्तान और जम्मू-कश्मीर के पास विक्षोभ बनने से प्रदेश में कड़ाके की ठंड पड़ेगी। पश्चिमी यूपी में बादल छाए रहेंगे। शनिवार दो जनवरी को लखनऊ व आसपास के स्थानों पर बारिश की आशंका जताई गई है।

तीन से पांच जनवरी तक बारिश के आसार

शुक्रवार को लखनऊ का एक्यूआइ 360 दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार, तीन से पांच जनवरी तक लखनऊ समेत कई इलाकों में हल्की बारिश के आसार हैं। रात में कोहरा छाया रहेगा। उधर, मथुरा में साल की सुबह खासी सर्द रही। यहां भी शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 0.5 डिग्री दर्ज हुआ।

मुरादाबाद में दृश्यता तीन से पांच मीटर

मुरादाबाद की साल के पहले दिन की रात सबसे ठंडी रही। सुबह 11 बजे तक घना कोहरा छाया रहा और दृश्यता महज तीन से पांच मीटर ही रह गई। हालांकि सुबह 11 बजे के बाद खिली धूप ने कुछ राहत जरूर दी। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 2.5 तो अधिकतम तापमान 17.5 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक यहां तीन जनवरी से बूंदाबांदी के आसार हैं।

कानपुर में टूटा रिकॉर्ड

कानपुर में 31 दिसंबर की रात पड़ी ठंड से 23 साल का रिकार्ड टूट गया। यहां रात में पारा 2.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। इससे पहले 1998 में एक जनवरी की रात न्यूनतम तापमान 2.3 डिग्री सेल्सियस रहा था।

ये भी पढ़ें: प्रदेश में अब नई तकनीक से बनेंगे मकान, हर घर पर सरकार देगी 5.33 लाख रुपए सब्सिडी

ये भी पढ़ें: योगी सरकार का ऐलान, UPSC परीक्षा के टॉप-10 IAS, IPS के घरों तक बनेगी पक्की सड़क, संबंधित का विवरण देते हुए लगेगा बोर्ड