बिकरू कांड का एक और आरोपी गिरफ्तार - ₹50 हजार का इनाम था घोषित

कानपुर. सीओ सहित आठ पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाली घटना बिकरू कांड में शामिल 50000 का इनामी विपुल दुबे को गिरफ्तार कर पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है। उपरोक्त घटना में पुलिस ने 8 को एनकाउंटर में मार गिराया और 36 को जेल के अंदर पहुंचा दिया था। विपुल दुबे के रूप में विगत 6 महीने से फरार चल रहा था। जिसके ऊपर 50 हजार का इनाम घोषित किया गया था। क्राइम ब्रांच और एसटीएफ की टीम विपुल दुबे से पूछताछ करने के लिए मौके पर पहुंच गई है।

2 जुलाई की रात हुआ था बिकरू कांड

उल्लेखनीय है विगत 2 जुलाई की रात बिकरू कांड दबिश देने गई पुलिस टीम पर कुख्यात अपराधी विकास दुबे व उसके साथियों ने फायरिंग शुरू कर दी थी। जिसमें सीओ देवेंद्र मिश्र सहित 8 पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी। शासन को चुनौती देने वाली घटना के बाद पुलिस ने एनकाउंटर में विकास दुबे सहित 8 अपराधियों को मार गिराया था। जबकि पुलिस ने 36 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। विपुल दुबे के रूप में एकमात्र अभियुक्त घटना के संबंध में फरार चल रहा था। मुखबिर की सूचना पर सजेती पुलिस ने उसे भी गिरफ्तार कर लिया। जिसके पास से एक तमंचा व दो कारतूस भी बरामद किया गया।

मोबाइल का प्रयोग बंद कर दिया था विपुल ने

पुलिस पूछताछ के दौरान पता चला कि विपुल दुबे ने मोबाइल का प्रयोग करना बंद कर दिया था। यही कारण था कि सर्विलांस पर भी उसकी लोकेशन नहीं आ रही थी। बताया जाता है वह लगातार अपना ठिकाना बदलता रहता था। अधिकांश समय रेलवे स्टेशन व बस अड्डों पर भी गुजारा था। इसके पूर्व आईजी रेंज द्वारा विपुल दुबे पर इनाम की राशि ₹25 हजार से बढ़ाकर ₹50 हजार कर दी गई। सीओ घाटमपुर ने बताया कि विपुल दुबे को गिरफ्तार कर लिया गया है पूछताछ की जा रही है। फिलहाल विपुल दुबे को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस राहत की सांस ले रही है।



Advertisement