69000 शिक्षक भर्ती : नियुक्ति पाने के लिए अभ्यर्थियों को मिला एक और अवसर, बची सीटों की होगी तीसरी काउंसलिंग

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 69,000 शिक्षक भर्ती में नियुक्ति पाने के लिए जो अभ्यर्थी उम्मीद लगाए बैठे हैं और जो अभ्यर्थी अब तक काउंसिलिंग में शामिल नहीं हुए हैं। ऐसे अभ्यर्थियों को योगी सरकार एक और अवसर देने जा रही है। स्कूल शिक्षा महानिदेशक ने कहा है कि बेसिक शिक्षा विभाग इस भर्ती में तीसरी काउंसिलिंग भी कराएगा। इसके लिए जिलों से रिक्त सीटों का ब्योरा लिया जाएगा और नियमानुसार प्रक्रिया आगे बढ़ेगी। इस भर्ती में पहले जिला आवंटन में ही अनुसूचित जनजाति अभ्यर्थियों के 1133 पद खाली रह गए थे।

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों के लिए 69,000 शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया चल रही है। दो चरणों में 31,277 व 36,590 पदों का जिला आवंटन किया गया। दोनों चरणों की काउंसिलिंग कराकर नियुक्ति पत्र दिए जा चुके हैं। उनमें से बड़ी संख्या में पद रिक्त होने की सूचना है। इसका ब्योरा अभी जिलों से नहीं लिया गया है, क्योंकि त्रुटि सुधार व अवशेष शिक्षामित्र आदि के प्रकरण लंबित हैं।

ये भी पढ़ें - सिर्फ पांच फीसदी ही बढ़ सकेगा किराया, मकान मालिक और किराएदारों को मिले कई अधिकार

पठन-पाठन दुरुस्त करने पर विशेष जोर

दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार को प्रयागराज पहुंचे स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने कहा कि सरकारी परिषदीय विद्यालयों की साज-सज्जा और पठन-पाठन दुरुस्त करने पर विशेष जोर है। इसके लिए जिलों में जिलाधिकारी की अगुवाई में कमेटियां बनाई गई हैं और उसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं। वहीं, जिन विद्यालयों के भवन जर्जर हैं या फिर वे किराए के भवन में चल रहे हैं, उन्हें नजदीक के ही परिषदीय विद्यालय में शिफ्ट किया जाएगा। उन्होंने सीमैट व परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय का भी निरीक्षण किया।



Advertisement