राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि को सद्भावना दिवस के रूप में मनाएंगे किसान, करेंगे एकदिवसीय भूख हड़ताल!

26 जनवरी को ट्रैक्टर परेड के नाम पर हुई हिं’सा के बाद संयुक्त किसान मोर्चा ने 30 जनवरी को पूरे देश में ‘सदभावना दिवस’ मनाने का ऐलान किया है. जिसमें उनकी ओर से कहा गया है कि दिल्ली समेत पूरे देश में जहां-जहां कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन हो रहे हैं वहां 30 जनवरी को सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक भूख हड़ताल की जाएगी.

इतना ही नहीं उन्होंने सभी देशवासियों से इस एकदिवसीय भूख हड़ताल में शामिल होने का आग्रह किया. तो वहीं केंद्र सरकार पर निशान साधा गया और उन्होंने केंद्र सरकार और बीजेपी पर किसान आंदोलन को बदनाम करने का आरोप लगाया है. आपको बता दें कि संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से कहा गया है कि 26 जनवरी को दिल्ली में जो हिंसा हुई वो सब बीजेपी द्वारा पहले से ही ष’ड’यं’त्र था.

और वो इस हिंसा का सहारा लेकर किसानों के आंदोलन को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं. मोर्चे की ओर से कहा गया कि 99 प्रतिशत किसानों ने पुलिस द्वारा तय रूट पर ही ट्रैक्टर परेड निकाला था. और लाल किले पर हुई हिंसा में किसानों का कोई हाथ नहीं है और वहां जो जाकर उत्पात मचाया गया उसमें बीजेपी का हाथ है. तो वहीं इन अटपटी बातों के बीच संयुक्त किसान मोर्चा ने किसान नेता राकेश टिकैत की जमकर तारीफ की.

गौरतलब है कि संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से डा. दर्शनपाल सिंह ने गाजीपुर बार्डर पर डटे किसान नेता राकेश टिकैत की तारीफ में कसीदे पढ़े. तो वहीं दिल्ली में हुई हिंसा से अपना पल्ला झाड़ते नजर आए.